इन्दर राज आनन्द (मृत्यु: 6 मार्च 1987) हिन्दी सिनेमा में संवाद और पटकथा लेखक थे। इन्होंने राज कपूर की कई फ़िल्मों में काम किया, जिनमें आग (1948), आह (1953), अनाड़ी (1959) और संगम (1963) शामिल हैं।[1] वह अभिनेता-निर्देशक टीनू आनन्द और निर्माता बिट्टू आनन्द के पिता थे। इन्दर के पोते फिल्म निर्देशक सिद्धार्थ आनन्द हैं। मशहूर निर्देशक मुकुल आनन्द, इन्दर के भतीजे थे। अमिताभ बच्चन अभिनीत शहँशाह, लेखक के रूप में इन्दर की आखिरी फिल्म थी। यह उनके बेटे, बिट्टू द्वारा निर्मित की गई थी और टीनू द्वारा निर्देशित की गई थी।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "राज कपूर : हम तुम्हारे रहेंगे सदा". वेबदुनिया. मूल से 26 अप्रैल 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 26 अप्रैल 2019.