उपकरण ट्रांसफॉर्मर (इन्स्ट्रुमेन्ट ट्रान्सफॉर्मर), विद्युत शक्ति प्रणाली में लगायी जाने वाली वे युक्तियाँ हैं जो वोल्टता/धारा का मापन करने के लिए एक पृथक्कृत (आइसोलेटेड) आउटपुट प्रदान करते हैं। ये मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं-

११० किलोवोल्ट आइसोलेशन वाला SF6 भरा हुआ धारा ट्रान्सफॉर्मर
  • (क) विद्युतचुम्बकीय वोल्टता ट्रान्सफॉर्मर
  • (ख) संधारित्र वोल्टता ट्रान्सफॉर्मर (CVT), तथा
  • (ग) प्रकाशीय वोल्टता ट्रान्सफॉर्मर (ऑप्टिकल वोल्टेज ट्रान्सफॉर्मर)

इन ट्रान्सफॉर्मरों की प्राथमिक वाइन्डिंग उच्च वोल्टता से या उच्च धारा से जुड़ी होती है जबकि इनके द्वितीयक वाइण्डिंग में वोल्टता/धारा दर्शाने वाला मीटर या रिले लगी होती है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें