इलापिडाए (Elapidae) विषैले साँपों का एक जीववैज्ञानिक कुल है जो विश्व के ऊष्णकटिबन्ध (ट्रोपिकल) और उपोष्णकटिबन्ध (सबट्रोपिकल) क्षेत्रों में पाये जाते हैं। यह धरती और समुद्रों दोनों में रहते हैं। इन सभी के दांत खोखले होते हैं जिन में से यह किसी अन्य प्राणी को काटने पर सीधा उसमें विष का प्रवाह कर देते हैं। आकार में यह १८ सेंटीमीटर लम्बे ड्रिस्डेलिया से लेकर ५.६ मीटर लम्बे नागराज तक के होते हैं। वर्तमानकाल में इलापिडाए परिवार में ३२५ जातियाँ शामिल हैं।[1]

इलापिडाए
Elapidae
L14cobra.jpg
मिस्र का नाग
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: जंतु
संघ: रज्जुकी (Chordata)
वर्ग: सरीसृप (Reptilia)
अधिगण: लेपिडोसोरिया (Lepidosauria)
गण: स्क्वमाटा (Squamata)
उपगण: सर्प (Serpentes)
कुल: इलापिडाए (Elapidae)
एफ़ ब्वाई, १८२७
उपकुल: इलापिनाए (Elapinae)
हाइड्रोफ़िनाए (Hydrophiinae)
लैटिकौडिनाए (Laticaudinae)

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Nilson, G. & N. Rastegar-Pouyani (2007) Walterinnesia aegyptia Lataste, 1887 (Ophidia: Elapidae) and the status of Naja morgani Mocquard 1905. Russian Journal of Herpetology, 14: 7-14.