उधम सिंह (हॉकी खिलाडी)

उधम सिंह (4 अगस्त 1928 - 23 मार्च 2000) को उधम सिंह कुलार के रूप में भी जाना जाता है। वह एक भारतीय हॉकी खिलाडी थे। उन्हें भारत सरकार द्वारा 1965 में अर्जुन पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।[1]

प्रारंभिक जीवनसंपादित करें

उधम सिंह का जन्म 4 अगस्त, 1928 को संसारपुर, जालंधर, पंजाब में हुआ था।[2]

करियरसंपादित करें

उधम सिंह 1952 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक हेलसिंकी, 1956 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक मेलबर्न, 1960 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक रोम और 1964 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक टोक्यो में भारतीय हॉकी टीम के सदस्य के रूप में खेले। भारतीय हॉकी टीम के लिए तीन स्वर्ण और एक रजत पदक जीता।[3] (ओलंपिक में हॉकी प्रतियोगिता में एक खिलाड़ी द्वारा यह ओलंपिक रिकॉर्ड बना) वह 1968 में मैक्सिको में हुए ओलंपिक में रजत पदक विजेता भारतीय टीम के प्रशिक्षक भी थे।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Shrivastava, Surendra (2013-01-01). Hockey : Khel Aur Niyam. Prabhat Prakashan. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-93-80839-17-2.
  2. "ऊधम सिंह, भारतीय हॉकी खिलाड़ी- GK in Hindi - सामान्य ज्ञान एवं करेंट अफेयर्स". hindi.gktoday.in. अभिगमन तिथि 2019-12-11.
  3. "Top 5 Hockey Players of India-भारतीय हॉकी इतिहास के 5 सबसे महान खिलाड़ी" (अंग्रेज़ी में). 2018-07-26. मूल से 11 दिसंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2019-12-11.