मुख्य मेनू खोलें

हिन्दू धर्म के चार मुख्‍य माने गए वेदों (ऋग्वेद, सामवेद, यजुर्वेद तथा अथर्ववेद) से निकली हुयी शाखाओं रूपी वेद ज्ञान को उपवेद कहते हैं। उपवेदों के वर्गीकरण के बारे में विभिन्न इतिहासकारों तथा विद्वानों के विभिन्न मत हैं,किन्तु सर्वोपयुक्त निम्नवत है-

उपवेद भी चार हैं-

  1. आयुर्वेद- ऋग्वेद से (परन्तु सुश्रुत इसे अथर्ववेद से व्युत्पन्न मानते हैं);
  2. धनुर्वेद - यजुर्वेद से ;
  3. गन्धर्ववेद - सामवेद से, तथा
  4. शिल्पवेद - अथर्ववेद से ।

सन्दर्भसंपादित करें

वेदों के उपवेद क्रमश: ऋग्वेद,यजुर्वेद,सामवेद,अथर्ववेद

1.*आयुर्वेद* (चरणव्यूह के अनुसार "ऋग्वेद" का उपवेद "आयुर्वेद" है किन्तु सुश्रुत के अनुसार आयुर्वेद अथर्ववेद का उपवेद है।)

2.*धनुर्वेद* 3.गान्धर्ववेद 4.शिल्पशास्त्र