भट्ठी से १२०० डिग्री सेल्सियस के तापमान पर ढलाई से बने भागों का ठंडा होने पर कठोरीकरण होता है।

कठोरीकरण या कठोरण (हार्डेनिंग) एक विधि है जिस से किसीभी नर्म पदार्थ, आमतौर पर धातु, को कठोर बना दिया जाता है। यह पूरी प्रक्रिया कठोरीकरण कहलाती हैं।

मिश्र धातुओं के लिए तापोपचार की प्रक्रिया से कठोरीकरण किया जाता है। इस क्रिया से पूर्ण धातु कठोर बनता है जिस कारण प्लास्टिक विरूपण के लिए वो प्रतिरोध प्रदान करता है। कई बार सिर्फ़ सतह का कठोरीकरण भी किया जाता है; जैसे कि लकडी का या प्राकृतिक तरीके से पत्थरोंका।

सन्दर्भसंपादित करें