कलकोटी (Kalkoti, کلکوٹی), जिसे तूरवाली भी कहते हैं, कोहिस्तानी उपशाखा की एक दार्दी भाषा है जो पाकिस्तान के ख़ैबर​-पख़्तूनख़्वा प्रान्त के ऊपरी दीर ज़िले के कोहिस्तानी (पहाड़ी) क्षेत्र के कलकोट गाँव के आसपास के क्षेत्र में बोली जाती है। इसके आसपास के विस्तृत ऊँचे इलाक़े को आमतौर से 'दीर कोहिस्तान' कहा जाता है (यह कोहिस्तान ज़िले से अलग है)। इसे बोलने वाले बहुत से लोग कालामी भाषा और पश्तो भाषा भी बोलते हैं हालांकि उनके मातृभाषियों को कलकोटी बोलनी नहीं आती।[1][2]

कलकोटी
बोलने का  स्थान पाकिस्तान
क्षेत्र ऊपरी दीर ज़िला
ख़ैबर​-पख़्तूनख़्वा प्रान्त
मातृभाषी वक्ता ४,००० (१९९०)
भाषा परिवार
भाषा कोड
आइएसओ 639-3 xka

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Kalkoti Archived 14 अक्टूबर 2012 at the वेबैक मशीन., from Ethnologue: Languages of the World, fifteenth edition. SIL International.
  2. International Encyclopedia of Linguistics Archived 31 दिसम्बर 2013 at the वेबैक मशीन., pp. 2-198, Oxford University Press, 2003, ISBN 978-0-19-513977-8, ... Kalkoti: 4,000 speakers in Pakistan, Dir Kohistan, Northwest Frontier Province, in Kalkot village. A little more than half the people in the village are speakers. Kalami is used as second language. Kalami do not understand Kalkoti ...