क़ला-ए-नौ
Qala i Naw / قلعه نو
क़ला-ए-नौ की अफ़ग़ानिस्तान के मानचित्र पर अवस्थिति
क़ला-ए-नौ
क़ला-ए-नौ
अफ़ग़ानिस्तान में स्थिति
सूचना
प्रांतदेश: बादग़ीस प्रान्त, अफ़ग़ानिस्तान
जनसंख्या (२००९): १३,९४५
मुख्य भाषा(एँ): ताजिक, पश्तून
निर्देशांक: 34°59′24″N 63°7′12″E / 34.99000°N 63.12000°E / 34.99000; 63.12000

क़ला-ए-नौ​ (फ़ारसी: قلعه نو‎, अंग्रेज़ी: Qala i Naw) पश्चिमोत्तरी अफ़ग़ानिस्तान के बादग़ीस प्रान्त की राजधानी और सबसे बड़ा शहर है। जिस ज़िले में यह शहर पड़ता है उसका नाम भी क़ला-ए-नौ ज़िला है। इस ज़िले की ८०% आबादी ताजिक है और ताजिक भाषा ही यहाँ सबसे अधिक बोली जाती है हालांकि बहुत से लोगों को पश्तो भी आती है। क़ला-ए-नौ के आसपास का इलाक़ा अपने पिस्ते के वनों के लिए मशहूर है।

बादग़ीस प्रान्त की राजधानी क़ला-ए-नौ​ का एक नज़ारा

इतिहास और नामसंपादित करें

स्थानीय ताजिक भाषा में 'क़ला-ए-नौ' का मतलब 'नया क़िला' होता है। १८६३ तक एक खँडहर बना क़िला और कुछ ख़ानाबदोश अइमाक़​ क़बीलों के तम्बू खड़े हुआ करते थे। १८७८ में यहाँ एक नए क़िले का निर्माण हुआ जिस से शहर का नाम पड़ा। धीरे-धीरे यहाँ एक बस्ती बनती गई। १९७०-७१ में एक आकाल से यह नगर काफी प्रभावित हुआ और बहुत से लोग इसे छोड़कर चले गए। उसके बाद फिर आबादी बढ़ने लगी और अब यहाँ बहुत सी दुकाने और एक थाना भी है। यहाँ पर सड़कों की परेशानी है लेकिन बजरी की कच्ची सड़कें बनाने से शहरवालों को कुछ मदद मिली है।[1]

उच्चारण सहायतासंपादित करें

'बादग़ीस' में 'ग़' अक्षर के उच्चारण पर ध्यान दें क्योंकि यह बिना बिन्दु वाले 'ग' से ज़रा भिन्न है। इसका उच्चारण 'ग़लती' और 'ग़रीब' शब्दों के 'ग़' से मिलता है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. बादग़ीस क़ला में बजरी की सड़कों पर काम शुरू Archived 5 मार्च 2016 at the वेबैक मशीन., रोजनामा हेरात, ... अधिकारियों का कहना है कि प्रांत में इस सड़क के निर्माण से क़ला-ए- नौ के निवासियों को परिवहन समस्याओं से राहत मिल जाएगी (مسوولین در این ولایت می گویند با ساخت این سرک مشکلات ترانسپورتی باشندگان شهر قلعه نو رفع خواهد شد) ...