कांगड़ी भाषा

उत्तर भारत की भाषा

कांगड़ी, उत्तरी भारत में मुख्य रूप से हिमाचल प्रदेश की कांगड़ा घाटी के लोगों की भाषा है। मई 2021 से कांगड़ी भाषा वर्तमान यूडी ( यूनिवर्सल डिपेंडेंसीज़ ) के अंतरराष्ट्रीय पटल पा आ गई है । इस पटल पर अब तक कुल दस भारतीय भाषाएं ही शामिल हैं , जिनमें से एक कांगड़ी भाषा भी है। कांगड़ी भाषा मुख्यतः कांगड़ा, हमीरपुर,ऊना ज़िलों तथा चंबा, मंडी पठानकोट(पंजाब),होशियारपुर(पंजाब) तथा ऊधमपुर ( जम्मू और कश्मीर) आदि के कुछ भागों में बोली जाती है। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के कुछ गांवों में भी सीमित संख्या में कांगड़ी बोलने वाले व्यक्ति हैं । 2011 जनगणना के अनुसार 1.17 मिलियन से अधिक लोग कांगड़ी बोलते हैं।

सामान्यसंपादित करें

  • कांगड़ी हिन्दी और पंजाबी दोनों शब्दावली के साथ गहरा प्रभाव है।
  • इसके GRN भाषा संख्या 780 है।
  • इसके Ethnologue 14 वें संस्करण भाषा कोड DOJ है।
  • इसके Ethnologue 14 संशोधित संस्करण भाषा कोड XNR है।
  • इसके आईएसओ / Ethnologue 15 वें संस्करण भाषा कोड xnr है।

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें