मुख्य मेनू खोलें

केन्द्र-शासित प्रदेश

केन्द्र शासित प्रदेश
भारत के केन्द्र शासित प्रदेश

केन्द्र शासित प्रदेश या संघ-राज्यक्षेत्र या संघक्षेत्र भारत के संघीय प्रशासनिक ढाँचे की एक उप-राष्ट्रीय प्रशासनिक इकाई है। भारत के राज्यों की अपनी चुनी हुई सरकारें होती हैं, लेकिन केन्द्र शासित प्रदेशों में सीधे-सीधे भारत सरकार का शासन होता है। भारत का राष्ट्रपति हर केन्द्र शासित प्रदेश का एक सरकारी प्रशासक या उप राज्यपाल नामित करता है।[1]

वर्ततमान में भारत में 9 केन्द्र शासित प्रदेश हैं।[2] भारत की राजधानी नई दिल्ली जो कि दिल्ली नामक केन्द्र शासित प्रदेश भी था और पुदुचेरी को आंशिक राज्य का दर्जा दे दिया गया है। दिल्ली को राष्ट्रीय राजधानी प्रदेश-1992 के तौर पर पुनः परिभाषित किया गया है। दिल्ली व पुदुचेरी दोनो की अपनी चयनित विधानसभा, मंत्रिमंडल व कार्यपालिका हैं, लेकिन उनकी शक्तियाँ सीमित हैं - उनके कुछ कानून भारत के राष्ट्रपति के "विचार और स्वीकृति" मिलने पर ही लागू हो सकते हैं।

भारत में वर्तमान में निम्नलिखित केन्द्र शासित क्षेत्र हैं :-

  1. दिल्ली - यह भारत का राष्ट्रीय राजधानी प्रदेश भी है।
  2. अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह
  3. चण्डीगढ़
  4. दादरा और नगर हवेली
  5. दमन और दीऊ
  6. लक्षद्वीप
  7. पुदुचेरी
  8. जम्मू और कश्मीर - 5 अगस्त 2019 को घोषित और 31 अक्टूबर 2019 से प्रभावी।[3]
  9. लद्दाख़ - 5 अगस्त 2019 को घोषित और 31 अक्टूबर 2019 से प्रभावी।[3]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें