कोटा शिवराम कारन्त

भारतीय लेखक

कोटा शिवराम कारन्त (अक्टूबर १० , १९०२ - दिसंबर ९, १९९७) ज्ञानपीठ पुरस्कार विजेता। वह कन्नड लेखक, यक्षगान कलाकार और फिल्म के निदेशक आदि थे। इनके द्वारा रचित एक लोक नाट्य–विवेचन यक्षगान बायलाट के लिये उन्हें सन् १९५९ में साहित्य अकादमी पुरस्कार ([साहित्य अकादमी पुरस्कार कन्नड़|कन्नड़]]) से सम्मानित किया गया।[3]

कोटा शिवराम कारन्त
कोटा शिवराम कारन्त
ಶಿವರಾಮ ಕಾರಂತ.jpg
जन्म१० अक्टूबर १९०२
कोटा , उडुपि
मृत्यु९ दिसम्बर १९९७
मणिपाल , कर्नाटक , भारत
व्यवसायकन्नड लेखक, यक्षगान कलाकार और फिल्म के निदेशक [1][2]
राष्ट्रीयताभारतीय
अवधि/काल1924–1997
साहित्यिक आन्दोलननवोदय
जीवनसाथीLeela Alva (वि॰ 193686)
सन्तान४; के.उल्लास सहित

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Karanth: Myriad-minded "Monarch of the Seashore"". The Indian Express. 10 December 1997. मूल से 8 October 1999 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 November 2018.
  2. सन्दर्भ त्रुटि: <ref> का गलत प्रयोग; chandra नाम के संदर्भ में जानकारी नहीं है।
  3. "अकादमी पुरस्कार". साहित्य अकादमी. मूल से 15 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 सितंबर 2016.