मुख्य मेनू खोलें

कोलकाता कि घेराबंदी ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी और बंगाल के नवाब, सिराजुद्दौला के बीच हुआ युद्ध था। नवाब ने कल्कत्ता शाहर को ब्रिटिश नियंत्रण से वापस लेने के लिए ये युद्ध किया था। यह अंग्रेज़ों के फ्रांसीसियों से सप्त वर्षीय युद्ध से बवने हेतु दुर्ग बनाने से उपजे विवाद का परिणाम था। २० जून को हुए इस आक्रमण से अंग्रेज़ एकदम अनभिज्ञ थे और फोर्ट विलियम जल्दी ही नवाब के हाथों में आ गया। यहां के कई युद्ध बंदियों को ब्लैक होल नामक स्थान पर रखा गया था।

कैल्कटा की घेराबंदी
तिथि जून, १७५६
स्थान कैल्कटा, बंगाल
परिणाम कैल्कटा का अधिग्रहण
योद्धा
बंगाल के नवाब Flag of the British East India Company (1707).svg ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी
सेनानायक
सिराज उद्दौला Flag of the British East India Company (1707).svg जॉन ज़ेफनिया होल्वेल
शक्ति/क्षमता
50,000 सैनिक 515 सैनिक
मृत्यु एवं हानि
53 सैनिक 493
फ्रांसीसियों का अधिकतम प्रभाव १७४१-१७५४