कोल्हान विश्वविद्यालय

कोल्हान विश्वविद्यालय, भारत के झारखण्ड राज्य में पश्चिमी सिंहभूम जिले के चाईबासा में स्थित एक विश्वविद्यालय है। इसकी स्थापना राँची विश्वविद्यालय से अलग करके 13 अगस्त 2009 को की गई थी। 2015 में इसे राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (NAAC) द्वारा परीक्षित किया गया है।[2] अनुसूचित जाति और जनजाति के विद्यार्थियों पर विशेष ध्यान देते हुए यह विश्वविद्यालय समावेशी शिक्षा प्रदान करता है। इस विश्वविद्यालय के ज्यादतर कॉलेज चाईबासा, जमशेदपुर और सरायकेला-खरसावां जिले में है। इस विश्वविद्यालय में स्नातक लेवल और स्नातकाेत्तर लेवल पर स्थानीय भाषाओं में भी पढ़ाई होती है।[1] विश्वविद्यालय के सबसे पुराने कॉलेजों में टाटा कॉलेज चाईबासा, जमशेदपुर कोऑपरेटिव कॉलेज, ग्रेजुएट कॉलेज जमशेदपुर, चांडिल कॉलेज चांडिल, घाटशिला कॉलेज आदि हैं। इस विश्वविद्यालय से 2022 में अलग करके लड़कियों के लिए वीमेंस यूनिवर्सिटी जमशेदपुर की स्थापना की गई। जहां लड़कियों के पढ़ने के लिए बेहतर व्यवस्था है।

कोल्हान विश्वविद्यालय
Kolhan University
ध्येय
प्रकारपरास्नातक, एमफिल व पीएचडी
स्थापित2009
कुलाधिपतिझारखण्ड के राज्यपाल
उपकुलपतिश्री मनोज कुमार[1]
स्थानचाईबासा, झारखण्ड, 833202, भारत
22°47′49″N 86°10′50″E / 22.7969829°N 86.1805778°E / 22.7969829; 86.1805778
परिसरग्रामीण
जालस्थलhttp://www.kolhanuniversity.ac.in/
कोल्हान विश्वविद्यालय is located in झारखण्ड
कोल्हान विश्वविद्यालय
Location in झारखण्ड
कोल्हान विश्वविद्यालय is located in भारत
कोल्हान विश्वविद्यालय
कोल्हान विश्वविद्यालय (भारत)
  1. "VC's Profile". कोल्हान विश्वविद्यालय का जालघर. मूल से 6 जुलाई 2019 को पुरालेखित |archive-url= दिए जाने पर |url=भी दिया जाना चाहिए (मदद). गायब अथवा खाली |url= (मदद); |access-date= दिए जाने पर |url= भी दिया जाना चाहिए (मदद)
  2. "कोल्हान विश्वविद्यालय को मिला नैक का सी ग्रेड". प्रभात खबर. मूल से 31 जनवरी 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 31 जनवरी 2020.