गामा पॅगासाई पर्णिन अश्व तारामंडल में 'γ' के चिह्न द्वारा नामांकित तारा है

गामा पॅगासाई, जिसका बायर नाम भी यही (γ Pegasi या γ Peg) है, पर्णिन अश्व तारामंडल के क्षेत्र में स्थित एक तारा है। इसकी पृथ्वी से देखी गई चमक (सापेक्ष कान्तिमान) +२.८३ मैग्नीट्यूड है। गामा पॅगासाई हमसे लगभग ३३५ प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है।

अन्य भाषाओं मेंसंपादित करें

गामा पॅगासाई तारे को अंग्रेज़ी में "ऐलजीनिब" (Algenib) भी कहते हैं। इस नाम का मूल स्रोत अरबी भाषा का "अल-जनिब" (الجانب‎) है, जिसका अर्थ "तरफ़" होता है (यह शब्द हिन्दी में भी "जानिब" के रूप में प्रचलित है)। ध्यान रहे कि यही नाम अल्फ़ा परसई तारे के लिए भी इस्तेमाल होता है जिस से असमंजस पैदा हो सकता है। पारम्परिक भारतीय खगोलशास्त्र में अल्फ़ा ऐन्ड्रौमिडे (α Andromedae) और गामा पॅगासाई तारों को इकठ्ठे उत्तरभाद्रपद नक्षत्र बुलाया जाता है।

विवरणसंपादित करें

गामा पॅगासाई B2 IV श्रेणी का दानव तारा है, जिसका द्रव्यमान हमारे सूरज के द्रव्यमान का ७ से १० गुना और व्यास (डायामीटर) हमारे सूरज के व्यास का ४.५ गुना है।[1] इसकी तारे की निहित चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) सूरज की लगभग ४,००० गुना है। यह एक बेटा सॅफ़ॅई परिवर्ती तारा है जिसकी चमक +२.७८ और +२.८९ मैग्नीट्यूड के दरमयान ऊपर-नीचे होती रहती है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Robert Burnham. "Burnham's celestial handbook: an observer's guide to the universe beyond the solar system". Courier Dover Publications, 1978. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780486236735. मूल से 4 जून 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 नवंबर 2011.