इस अनुच्छेद को विकिपीडिया लेख Quality control के इस संस्करण से अनूदित किया गया है।

इंजीनियरिंग और उत्पादन क्षेत्र में, गुणवत्ता नियंत्रण और गुणवत्ता इंजीनियरिंग का प्रयोग उत्पाद या सेवाएं ग्राहकों की आवश्यकताओं को पूरा करने हेतु डिज़ाइन तथा उत्पादित की गई हैं या नहीं यह सुनिश्चित करने के लिए सिस्टम को विकसित करने के लिए किया जाता है।

गुणवत्ता नियंत्रण इंजीनियरिंग और निर्माण की शाखा है जो ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने या उससे ज्यादा करने के लिए, उत्पाद या सेवाओं के उत्पादन और डिजाईन में विश्वसनीयता और विफलता परीक्षण लेने का कार्य करता है।

गुणवत्ता आश्वासनसंपादित करें

गुणवत्ता आश्वासन प्रबंधन के लिए व्यापक रूप से प्रयोग होने वाला एक प्रतिमान है PDCA (योजन-करो-जांच-कार्य) (प्लान-डू-चेक-एक्ट) दृष्टिकोण, जिसे शेवार्ट चक्र के रूप में भी जाना जाता हैं।

असफलता परीक्षणसंपादित करें

असफलता परीक्षण (जो प्रतिबल परीक्षण के रूप में भी जाना जाता है), संपूर्ण उपभोक्ता उत्पाद पर प्रदर्शन के लिए एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है। उत्पाद का यह परिचालन (ऑपरेशन) तब तक चलता है जब तक कि यह विफल नही हो जाता, यहां तक कि भारी दबावों जैसे कि कंपन, तापमान और आर्द्रता के बढ़ने पर भी जारी रहता है। यह उत्पाद की कई अप्रत्याशित कमजोरियों को उजागर कर देता है और डेटा को इंजीनियरिंग और निर्माण प्रक्रिया सुधारों को चलाने में प्रयोग किया जाता है।

सांख्यिकीय नियंत्रणसंपादित करें

कई संगठन, संगठनो की गुणवत्ता के सिक्स सिग्मा स्तर तक पहुंचने के लिए सांख्यिकीय प्रक्रिया नियंत्रण का इस्तेमाल करते हैं, दूसरे शब्दों में ताकि एक अप्रत्याशित असफलता की सामान्य वितरण पर छः मानक विचलन तक सीमित रहती है। यह संभावना 3.4 दस लाखवीं होती है। नियंत्रित वस्तुओं में कई बार लिपिक कार्य जैसे कि आदेश-प्रविष्टि साथ ही साथ पारंपरिक विनिर्माण कार्य भी शामिल होता है।

परंपरागत सांख्यिकीय प्रक्रिया सामान्य तौर पर उत्पादन का एक-एक करके (रैन्डमली) नमूने लेते हुए और अंशतः परीक्षण करते हुए आगे बढ़ते हुए उत्पादन परिचालन का नियंत्रण करती है। महत्वपूर्ण गुंजाइशों (टोलेरेन्स) के प्रसारण पर लगातार नज़र रखी जाती है और विनिर्माण प्रक्रियाओं को खराब भाग के उत्पादन होने से पहले ही ठीक कर लिया जाता है।

कंपनी गुणवत्तासंपादित करें

1980 के दशक के दौरान, "कंपनी गुणवत्ता" लोगों और प्रबंधन पर ध्यान केन्द्रित करने के अवधारणा के साथ सामने आई थी। यह माना गया था कि अगर सभी विभाग एक खुले दिमाग के साथ गुणवत्ता को सामने लाये, तो सफलता संभव थी अगर प्रबंधन गुणवत्ता सुधार प्रक्रिया का नेतृत्व करेगी.

कंपनी का व्यापक गुणवत्ता दृष्टिकोण तीन पहलुओं पर ज्यादा जोर देता है : --

  1. नियंत्रण, नौकरी प्रबंधन, निरूपित और अच्छी तरह प्रबंधित प्रक्रियाएं, कार्यप्रदर्शन और अखंडता मानदंड तथा अभिलेखों की पहचान. जैसे तत्व[1][2],
  2. समर्थता जैसे ज्ञान, कुशलता, अनुभव, योग्यताएं
  3. सॉफ्ट घटक जैसे की कर्मियों की निष्ठा, विश्वास, संगठनात्मक संस्कृति, प्रेरणा, टीम भावना और अच्छे संबंध.

इन तीनों में से किसी भी पहलु में किसी भी तरह की कमी आ जाती है तो उत्पाद की गुणवत्ता खतरे में आ जाती है।

पूर्ण गुणवत्ता नियंत्रणसंपादित करें

पूर्ण गुणवत्ता नियंत्रण सभी नियंत्रणों में सबसे ज्यादा आवश्यक निरीक्षण नियंत्रण है, उन मामलों में जहां सांख्यिकीय गुणवत्ता नियंत्रण तकनीक या गुणवत्ता सुधार कार्यान्वित होने के बावजूद, बिक्री घट जाती है।

यदि मूल विनिर्देश सही गुणवत्ता जरूरतों को प्रतिबिंबित नहीं करता है, तो गुणवत्ता नियंत्रण का उत्पादन निरीक्षण या विनिर्माण नहीं किया जा सकता है।

उदाहरणस्वरुप दबाव पोत के लिए सभी पैरामीटर में सिर्फ सामग्री और आयाम ही नहीं बल्कि संचालन, पर्यावरण, बचाव, स्थायीता और रख-रखाव की जरूरतें भी शामिल रहनी चाहिए.

वैज्ञानिक संसाधनसंपादित करें

  • प्रत्यायन और गुणवत्ता आश्वासन: जर्नल फॉर क्वालिटी, कंपैरेबिलिटी एंड रेलियाबिलिटी इन केमिकल मेजरमेंट|प्रत्यायन और गुणवत्ता आश्वासन: जर्नल फॉर क्वालिटी, कंपैरेबिलिटी एंड रेलियाबिलिटी इन केमिकल मेजरमेंट, ISSN: 0949-1775 Print, eISSN: 1432-0517[3]

शैक्षिक संसाधनसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

संदर्भसंपादित करें

  1. एड्सिट, डी. (2007) कॉल सेंटर उद्योग विनिर्माण से क्या सीख सकता है: भाग I, इन क्यू (In Queue), http://www.nationalcallcenters.org/pubs/In_Queue/vol2no21.html Archived 26 जुलाई 2009 at the वेबैक मशीन.
  2. एड्सिट, डी. (2) कॉल सेंटर उद्योग विनिर्माण से क्या सीख सकता है: भाग II, इन क्यू (In Queue) http://www.nationalcallcenters.org/pubs/In_Queue/vol2no22.html Archived 26 जुलाई 2009 at the वेबैक मशीन.
  3. http://www.springerlink.com/content/q922ehvpaq49pw6q/[मृत कड़ियाँ]
  • साँचा:FS1037C MS188
  • गोडफ्रे, ए.बी जुरान की क्वालिटी हैन्डबुक, 1999. 007034003 ISBN.
  • पाइडेक (Pyzdek), टी., क्वालिटी इंजीनियरिंग हैन्डबुक, 2003. ISBN 0-8247-4614-7.

आगे पढ़ेसंपादित करें

  • OSDL Data Base Test Suite Backgrounder, Press releases, Open Source Development Labs, 3 मार्च 2003, मूल से 5 जून 2004 को पुरालेखित, अभिगमन तिथि 29 जून 2009सीएस1 रखरखाव: तिथि और वर्ष (link)
  • QACity: Resources for Busy Testers, LogiGear, मूल से 9 अक्तूबर 2004 को पुरालेखित, अभिगमन तिथि 29 जून 2009
  • Home, Saksoft, 29 मई 2004, मूल से 10 अगस्त 2004 को पुरालेखित, अभिगमन तिथि 29 जून 2009सीएस1 रखरखाव: तिथि और वर्ष (link)