चार धाम रेलवे भारतीय रेल की एक परियोजना है जिसके तहत उत्तराखण्ड राज्य में स्थित हिंदू तीर्थों तक रेल द्वारा यात्रा सुगम बनाने हेतु कार्य किया जा रहा है।[1] गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ तीर्थ छोटा चार धाम के रूप में जाने जाते हैं। इस परियोजना के अंतर्गत जुड़वाँ रेल लाइनें बिछाई जानी हैं। देहरादून के निकट दोईवाला स्टेशन से गंगोत्री और यमुनोत्री के रेल-लाइन और दूसरी लिंक-रेल-लाइन कर्णप्रयाग से बद्रीनाथ और केदारनाथ के लिए बनाई जानी हैं। इस रेलवे का भारत के लिए स्त्रातेजिक महत्त्व भी है।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "ट्रेन से कर सकेंगे 4 धाम यात्रा! मोदी सरकार का यह है मेगा प्रोजेक्ट". जनसत्ता. 29 मई 2019. मूल से 29 मई 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 अक्टूबर 2019.