जहाज़ महल महरौली, दिल्ली में इसके पूर्वोत्तर कोने में हौज़-ए-शम्सी में स्थित है। इसे आस-पास से देखने पर इसका प्रतिबिम्ब ऐसे प्रतीत होता है जैसे किसी झील में कोई जहाज़ चलायमान हो। इसका निर्माण [[लोधी वंश|लोदी राजवंश के]काल (1452-1526) में खुशी के पल बिताने की धर्मशाला के रूप में किया गया था। [1][2]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Exploring the Mehrauli Archaeological Park: Hauz -e –Shamshi" (PDF). अभिगमन तिथि 2009-06-21. |accessdate= और |access-date= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद)[मृत कड़ियाँ]
  2. Patrick Horton; Richard Plunkett; Hugh Finlay (2002). Delhi. Footscray, Vic.: Lonely Planet. पृ॰ 128. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 1-86450-297-5. ISBN 9781864502978. मूल से 20 अप्रैल 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 अक्तूबर 2016. |ID= और |id= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |ISBN= और |isbn= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद)