जी७

अंतर्राष्ट्रीय अंतर सरकारी आर्थिक संगठन

सात का समूह या जी ७ या जी 7 कनाडा, फ़्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका का एक समूह है। यह संगठन, दुनिया की सात सबसे बड़ी उन्नत अर्थव्यवस्थाओं के साथ,[1] वैश्विक शुद्ध सम्पत्ति ($280 ट्रिलियन) का 62% से अधिक का प्रतिनिधित्व करते हैं।[2][3] जी7 देश नाममात्र मूल्यों के आधार पर वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 46% से अधिक और क्रय-शक्ति समता के आधार पर वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का 32% से अधिक का प्रतिनिधित्व करते हैं।[4] जी7 शिखर सम्मेलन में यूरोपीय संघ भी प्रतिनिधित्व करता है।

सात का समूह और यूरोपीय संघ
दुनिया में जी7-राष्ट्र (नीला) और यूरोपीय संघ (टील)।

 कनाडा साँचा:Largest

प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो

 फ़्रांस

राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों

 जर्मनी

चांसलर Olaf Scholz

 इटली

प्रधानमंत्री जिएसेपे कॉन्टे

 जापान

प्रधानमंत्री योसिहिदे सुगा

 यूनाइटेड किंगडम

प्रधानमंत्री लिज ट्रस्

 संयुक्त राज्य अमेरिका

राष्ट्रपति जोई बाईडन

 यूरोपीय संघ

परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क
आयोग के अध्यक्ष जीन-क्लाउड जुंकर

2018 में, राष्ट्राध्यक्ष और यू॰ सं॰ प्रतिनिधिसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "World Economic Outlook Database". International Monetary Fund. imf.org. October 2017. "Major Advanced Economies (G7)". मूल से 12 जून 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 सितंबर 2018.
  2. Sawe, Benjamin Elisha (25 April 2017). ”Group of Seven (G7) Countries Archived 2018-06-12 at the Wayback Machine”. World Atlas. worldatlas.com. Retrieved 8 June 2018. “The G7 countries possess 64% of the world's wealth and have a very high human development index.”
  3. "Global Wealth Databook". Credit Suisse. credit-suisse.com. 2017. Table 2-4, "Wealth Estimates by Country (mid-2017)”, p. 101-104. See values of “Share of Wealth, %” for G7 countries: Canada, 2.6; France, 4.6; Germany, 4.9; Italy, 3.9; Japan, 8.4; United Kingdom, 5.0; and United States, 33.4 (total: 62.8%). मूल से 22 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 8 June 2018.
  4. "Report for Selected Countries and Subjects". www.imf.org. मूल से 7 अप्रैल 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 सितंबर 2018.