डिंडौरी ज़िला

मध्य प्रदेश का जिला
(डिंडौरी ज़िले से अनुप्रेषित)

डिंडौरी या डिण्डौरी भारत के मध्य प्रदेश राज्य का एक जिला हैं। डिंडौरी जिला मध्य प्रदेश के पूर्वी भाग में छत्तीसगढ़ राज्य की सीमा से लगा हुआ हैं। डिंडौरी जिले की सीमा पूर्व में शहडोल, पश्चिम में मंडला, उत्तर में उमरिया और दक्षिण में छत्तीसगढ़ राज्य के बिलासपुर से लगी हुई है। यह जबलपुर से 144 कि॰मी॰ की दूरी पर है। डिंडौरी की मंडला से दूरी 104 तथा अमरकंटक की दूरी 88 कि॰मी॰ है। यह 81.34 डिग्री देशांत तथा 21.16 डिग्री अक्षांश में स्थित है। इसकी समुद्र तल से ऊंचाई 1100 मी. है। यह मैकाल पर्वत माला पर है। ड़िंडौरी में कई ऐतिहासिक स्थान हैं। इनमें लक्ष्मण माडव, कुकरामठ, कलचुरी काली मंदिर आदि प्रसिद्ध हैं। जिला मुख्यालय से कान्हा टाइगर राष्ट्रीय उद्यान 121 कि॰मी॰ मण्डला होते हुए तथा बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान 140 कि॰मी॰ की दूरी पर स्थित है। इस जिले का गठन 25 मई 1998 को किया गया। इसमें 927 गांव शामिल हैं। जिले में 7 विकासखंड डिंडौरी, शाहपुरा, मेहंदवानी, अमरपुर, बजांग, करंजिया और समनपुर है। जिले के 927 गांवों में से 899 गांवों में बैगा जनजाति के लोग निवास करते हैं।

डिंडौरी ज़िला
MP Dindori district map.svg

मध्य प्रदेश में डिंडौरी ज़िले की अवस्थिति
राज्य मध्य प्रदेश
 भारत
प्रभाग जबलपुर
मुख्यालय डिण्डौरी, मध्यप्रदेश
क्षेत्रफल 6,128 कि॰मी2 (2,366 वर्ग मील)
जनसंख्या 704524[1] (2011)
जनघनत्व 94/किमी2 (240/मील2)
साक्षरता 63.90%[1]
लिंगानुपात 1002[1]
आधिकारिक जालस्थल

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "डिंडौरी जिला: जनगणना 2011 के आंकड़े". भारत सरकार. मूल से 18 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 1 दिसंबर 2017.