डेनिस गैबर CBE, FRS (मूल हंगेरियाई नाम: Gábor Dénes; ५ जून १९००– ८ फ़रवरी १९७९) एक हंगेरियाई-ब्रिटिश[1] विद्युत अभियांत्रिक एवं अन्वेषक थे। इनकी सर्वाधिक उल्लेखनीय खोज होलोग्राफी थी, जिसके लिये इन्हें बाद में १९७१ का भौतिकी का नोबल पुरस्कार मिला।

डैनिस गैबर

डॉ॰डेनिस गैबर
जन्म 5 जून 1900
बुडापेस्ट, हंगरी
मृत्यु 8 फ़रवरी 1979(1979-02-08) (उम्र 78)
लंदन, इंग्लैंड
नागरिकता हंगेरियाई / ब्रिटिश
क्षेत्र विद्युत अभियांत्रिकी
संस्थान इम्पीरियल कॉलिज, लंदन
ब्रिटिश थोमस हाउस्टन
शिक्षा टेक्निकल युनिवर्सिटी, बर्लिन
टेक्निकल युनिवर्सिटी, बुडापेस्ट
प्रसिद्धि होलोग्राफी का अन्वेषण
उल्लेखनीय सम्मान नोबल पुरस्कार (भौतिकी) (१९७१)
IEEE मेडल ऑफ ऑनर (१९७०)

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Hubbard, Arthur T. (1995). The Handbook of Surface Imaging and Visualization. CRC Press, Inc. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0849389119.

बाहरी सूत्रसंपादित करें



इन्हें भी देखेंसंपादित करें