थॉमस क्रिस्चियन सुडॉफ (जन्म दिसम्बर 22, 1955) एक जर्मन-अमेरिकी जीव रसायन विज्ञानी हैं जिन्हें अंतर्ग्रथनी संचरण के अध्ययन में उनके कार्य के लिए जाना जाता है। वर्तमान में, वो स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय स्कूल ऑफ़ मेडिसिन ऍण्ड न्यूरोलॉजी साइकाइट्री एंड बिहेवियरल साइंसेज में प्रोफेसर हैं।[2]

थॉमस क्रिस्चियन सुडॉफ
जन्म 22 दिसम्बर 1955 (1955-12-22) (आयु 64)
गौटिंगन, पश्चिम जर्मनी
राष्ट्रीयता जर्मन, अमेरिकी[1]
क्षेत्र जीवविज्ञान
संस्थान स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय,[2] टेक्सास विश्वविद्यालय का दक्षिण मेडिकल सेंटर
शिक्षा गौटिंगन विश्वविद्यालय, मैक्स प्लांक इंस्टिट्यूट फॉर बायोफिजिकल केमिस्ट्री
डॉक्टरी सलाहकार विक्टर पी॰ व्हित्ताकेर
प्रसिद्धि अंतर्ग्रथनपूर्व न्यूरॉन, अंतर्ग्रथनी संचरण
उल्लेखनीय सम्मान अल्बर्ट लस्कर अवार्ड फॉर बेसिक मेडिकल रिसर्च (2013)
नोबेल प्राइज इन फिजियोलॉजी और मेडिसिन (2013)

जल स्फोटिका दुर्व्यापार में उनके कार्य के लिए उन्हें जेम्स रॉथमैन और रैंडी शेकमैन के साथ 2013 के चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।[3][4]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Ist der Nobelpreisträger Südhof überhaupt Deutscher?". Focus. अभिगमन तिथि 2013-10-09.
  2. "CAP - Thomas Sudhof". Med.stanford.edu. 2008-06-20. अभिगमन तिथि 2013-10-09.
  3. "The Nobel Prize in Physiology or Medicine 2013". Nobel Foundation. अभिगमन तिथि अक्टूबर 9, 2013.
  4. टीम डिजिटल (7 अक्टूबर 2013). "चिकित्सा क्षेत्र में 3 वैज्ञानिकों को मिला नोबेल पुरस्कार". अमर उजाला. अभिगमन तिथि 9 अक्टूबर 2013.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें