मुलत भौगोलीक रूपसे इरानसे लेकर बर्मा तक का क्षेत्र दक्षिण एसीया है। इरान से पस्चीम को पस्चीम एसीया या मध्य पुर्व काहा जाताहै, वैसेही बर्मा से पुर्व के देसो को दक्षिण पुर्वी एसीया काहा जाताहै। लेकिन अभी साधारण तया दक्षीण एसिया कहने से भुटान, बंगलादेस, भारत, नेपाल, श्रीलंका, मालदीप, पाकीस्तान और अफगानीस्तान को काहाजाता है ए मुल्क दक्षीण एसियाइ सहयोग संगठन (सार्क) में आबद्ध है, बर्मा दक्षिण पुर्वी एसीयाली संगठन आसीयान में आबद्ध और इरान भि अभी तक सार्क में आबद्ध नहीं है। तरकीवन एक तरहके रहन सहन रहतेहुए भि दक्षीण एसिया में बहुत से विविधता है इसीलिए इन मुल्को का अलग अलग इतिहास के चर्चा से अधिक जानकारी मिल सकता है।

बर्मा का इतिहाससंपादित करें

भारत का इतिहाससंपादित करें

देखिए: भारत का इतिहास

भूटान का इतिहाससंपादित करें

नेपाल का इतिहाससंपादित करें

श्रीलंका का इतिहाससंपादित करें

मालद्ववीप का इतिहाससंपादित करें

पाकिस्तान का इतिहाससंपादित करें

अफगानिस्तान का इतिहाससंपादित करें

ईरान का इतिहाससंपादित करें