दया शब्द हिंदी में काफी प्रयुक्त होता है। इसका का अर्थ करुणा है।कई विद्वानो ने दया की अलग अलग परिभाषा दी है,तुलसीदास जी ने दया को धर्म का मूल कहा है।जब तक ह्रदय मे दया है,तब तक धर्म उस पर टिका हुआ है, दया की अनुपस्थिती में धर्म का कोई अस्तित्व नही है।

दया
Peterborough Psalter c 1220-25 Mercy and Truth.jpg
दया और सत्य भजन 85:10 के 13 वीं शताब्दी के प्रतिनिधित्व में एक साथ दिखाए जाते हैं