दामोदर मवलंकर

थियोसोफी दर्शन से प्रभावित एक व्यक्ति

दामोदर मवलंकर (जन्म : सितम्बर 1857 अहमदाबाद - १८८५ में हिमालय की ओर निकल गए थे)[1][2] भारत के एक थियोसोफी दर्शन से प्रभावित एक व्यक्ति थे।

दामोदर मवलंकर
सन १८८१ में मुम्बई में थियोसोफिकल सोसायटी के सम्मेलन में हैलीना ब्लावाट्स्की (मध्य में खड़ी), हेनरी स्टील ऑलकाट (मध्य में बैठे हुए) और दामोदर मवलंकर (बाएँ से तीसरे)

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Sri Raghavan Iyer, 'Damodar K. Mavalankar'
  2. Sven Eek (comp.), Dâmodar and the Pioneers of the Theosophical Movement, Theosophical Publishing House (TPH), 1965