विद्युत आवेश कुछ उपपरमाणवीय कणों में एक मूल गुण है जो विद्युतचुम्बकत्व का महत्व है। आवेशित पदार्थ को विद्युत क्षेत्र का असर पड़ता है और वह ख़ुद एक विद्युत क्षेत्र का स्रोत हो सकता है।

VFPt Solenoid correct2.svg
विद्युतचुम्बकत्व
विद्युत · चुम्बकत्व
विद्युत गतिकी
विद्युत धारा
लॉरेन्ज़ का बल
विद्युतवाहक बल
फैराडे का प्रेरण का नियम
विस्थापन धाराएं
मैक्सवेल का समीकरण
विद्युतचुम्बकीय क्षेत्र
विद्युतचुम्बकीय विकिरण
संवहन धारा
इस संदूक को: देखें  संवाद  संपादन


विद्युत आवेश
मापन इकाई (SI इकाई): कूलाम
सामान्यतया प्रयुक्त चिह्न: Q
अन्य मात्राओं में व्यक्त: Q = I · t

आवेश पदार्थ का एक गुण है! पदार्थो को आपस में रगड़ दिया जाये तो उनमें परस्पर इलेक्ट्रोनों के आदान प्रदान के फलस्वरूप आकर्षण का गुण आ जाता है

इसकी खोज 600 ई . पूर्व हुई थी इसका श्रेय ग्रीस देश के निवासी थेल्स को जाता है 'इलेक्ट्रिसिटी' शब्द भी ग्रीस भाषा के शब्द इलेक्ट्रान से लिया गया है जिसका अर्थ 'ऐम्बर' है।



प्रकारसंपादित करें

आवेश को ऋणआत्मक तथा धनात्मक को बेंजामिन फ्रेंकलिन ने बताया था