जसवंत राय शर्मा उपनाम: नक़्श लायलपुरी (نقش لایل پوری)(24 फरवरी 1928 – 22 जनवरी 2017), उर्दू शायर और हिन्दी फिल्मों के गीतकार थे। [1]

नक़्श लायलपुरी
Naqsh Lyallpuri.jpg
जन्म जसवंत राय शर्मा
24 फ़रवरी 1928
लायलपुर (वर्तमान में फैसलाबाद), ब्रिटिश भारत
मृत्यु 22 जनवरी 2017(2017-01-22) (उम्र 88)
मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
आवास मुंबई
व्यवसाय गीतकार
सक्रिय वर्ष 1953–2007

प्रारंभिक जीवनसंपादित करें

उनका जन्म 24 फरवरी, 1928 को वर्तमान पाकिस्तान स्थित पंजाब प्रांत के लायलपुर में हुआ था। उनका असली नाम जसवंत राय शर्मा था।

करियरसंपादित करें

उनकी बतौर गीतकार पहली फिल्म ‘जुग्गू’ (वर्ष 1952) थी जिसमें उन्होंने ‘अगर तेरी आंखों से आंखें मिला दूं’ गीत लिखा था। उनकी अन्य प्रसिद्ध फिल्मों में ‘चेतना’, ‘आहिस्ता आहिस्ता’तुम्हारे लिए’ एवं ‘घरौंदा’ भी शामिल हैं।[2]

फिल्मोग्राफीसंपादित करें

कुछ प्रसिद्ध गीत
  • धानी चुनर मोरी हाए रे
  • मैं तो हर मोड़ पर तुझको दूंगा सदा
  • कई सदियों से कई जन्मों से
  • उल्फ़त में ज़माने की हर रस्म को ठुकराओ
  • तुम्हें देखती हूं तो लगता है ऐसे
  • ये मुलाक़ात इक बहाना है
  • क़दर तूने ना जानी
  • चांदनी रात में एक बार तुझे देखा है
  • चिट्ठिए
  • तुम्हें हो न हो मुझको तो
  • प्यार का दर्द है मीठा मीठा प्यारा प्यारा
  • सीने में भी तूफ़ां है
  • न जाने क्या हुआ,जो तूने छू दिया
  • तुझ संग प्रीत लगाई सजना
  • नन्हा मुन्ना राही हूं, देश का सिपाही हूं
  • जिंदगी की न टूटे लड़ी,प्यार कर ले घड़ी दो घड़ी
  • मेरे देश की धरती सोना उगले,उगले हीरे मोती

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Naqsh Lyallpuri: A playlist of his top songs" [नक्श लायलपुरी: अपने शीर्ष गीतों का एक गीतकार]. हिंदुस्तान टाइम्स (अंग्रेज़ी में). 22 जनवरी 2017. मूल से 27 जनवरी 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 जनवरी 2017.
  2. "Old is Gold: Naqsh Lyallpuri (Feb 24,1928 – Jan 22 2017)" [ओल्ड इज गोल्ड:नक्श लायलपुरी (फ़रवरी 24,1928 - 22 जनवरी 2017)] (अंग्रेज़ी में). फिल्म राइटर्स एसोसिएशन. मूल से 2 फ़रवरी 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 जनवरी 2017.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें