मुख्य मेनू खोलें

प्रशस्तपाद प्राचीन भारतीय दार्शनिक थे। उन्होने पदार्थधर्मसंग्रह तथा प्रशस्तपादभाष्य नामक ग्रन्थों की रचना की।

सन्दर्भसंपादित करें

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें