प्लान (2004 फ़िल्म)

2004 की हृदय शेट्टी की फ़िल्म

प्लान 2004 की हिन्दी फ़िल्म है। इसमें संजय दत्त, प्रियंका चोपड़ा, डीनो मोरिया, समीरा रेड्डी और महेश मांजरेकर ने अभिनय किया है।[1] इसका निर्माण संजय गुप्ता ने किया और निर्देशन हृदय शेट्टी ने किया।

प्लान
निर्देशक हृदय शेट्टी
लेखक मिलाप झावेरी
(संवाद)
पटकथा यश -विनय
कहानी संजय गुप्ता
निर्माता संजय गुप्ता
धरम ओबेरॉय
अभिनेता संजय दत्त
प्रियंका चोपड़ा
डीनो मोरिया
संजय सूरी
समीरा रेड्डी
रिया सेन
रोहित रॉय
संगीतकार आनन्द राज आनन्द
विशाल-शेखर
प्रदर्शन तिथियाँ
9 जनवरी, 2004
भाषा हिन्दी

संक्षेप संपादित करें

जीवन के विभिन्न क्षेत्रों से आए चार व्यक्ति मुंबई की ओर जाने वाली एक ट्रेन में मिलते हैं। वे हैं बॉबी (डीनो मोरिया), ओमी (रोहित रॉय), लकी (संजय सूरी) और जय (बिक्रम सलूजा)। वे तुरंत दोस्त बन जाते हैं। बॉबी का सपना अमिताभ बच्चन जैसा अभिनेता बनने का है। ओमी को उस व्यक्ति से कुछ पैसे वापस लेने हैं जिसने उसके पिता से पैसे उधार लिए थे। लकी अपने गाँव में एक जुआरी था और मुंबई में अपनी किस्मत आज़माने का इरादा रखता था। जय अपना खोया हुआ प्यार वापस पाना चाहता है। यह पता चलता है कि ओमी ने उस उधारकर्ता के साथ 50% पैसे के लिए सौदा कर लिया है। वहां जुए में लकी को किस्मत का साथ मिलने लगा है। वहीं बॉबी को फिल्म उद्योग में बहुत कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। जय को पता चलता है कि उसके प्यार, शालिनी (रिया सेन) ने जानबूझकर उसे छोड़ दिया था और वह उसे वापस नहीं चाहती है। जय को शालिनी को भूलाने के लिए, उसके दोस्त उसे नाइट-क्लब की वेश्या तान्या (पायल रोहतगी) से मिला देते हैं। बाद में वह उसके प्यार में पड़ जाता है। इसके तुरंत बाद, लड़के अपने गांव नहीं लौटने और शहर के जीवन का आनंद लेने का फैसला करते हैं।

वे मुंबई में जीवन का आनंद लेते हैं, लेकिन अंततः उन्हें पता चलता है कि उनके पास पैसे की कमी है। इस वजह से लकी बड़ा जुआ खेलने का फैसला करता है। अन्य सभी उनके पास जो बचा है उसमें योगदान देते हैं। हालाँकि, लकी के विपरीत खेल रहा व्यक्ति धोखे से खेलता है, जिसके परिणामस्वरूप लकी को 7,00,000 रुपए उसे चुकाने होते हैं। उन्हें 2 सप्ताह में पैसे लौटाने और शहर न छोड़ने की चेतावनी दी जाती है। उनकी समस्याओं का एकमात्र समाधान एक बिजनेस टाइकून का अपहरण करना होता है, जिसे लकी ने हाल ही में नाइट क्लबों में देखा था। सफलतापूर्वक उसका अपहरण करने के बाद, उन्हें पता चलता है कि वह वास्तव में मूसा भाई (संजय दत्त) है। मूसा भाई मुंबई की अंडरवर्ल्ड आपराधिक गतिविधियों का प्रमुख है और सबसे खूंखार गैंगस्टर है। हालाँकि, किस्मत उनका साथ देती है जब मूसा भाई को पता चलता है कि अगर उन्होंने उसका अपहरण नहीं किया होता, तो वह मर गया होता। मूसा भाई के आदमियों को उसके प्रतिद्वंद्वी सुल्तान (महेश मांजरेकर) ने उसे मारने के लिए रिश्वत दी थी। लड़के मूसा भाई को उसके विश्वासघाती आदमियों को खत्म करने में मदद करते हैं। बदले में, मूसा भाई बॉबी को उसकी प्रेमिका सपना (समीरा रेड्डी) के साथ एक फिल्म दिलाने में मदद करता है। साथ ही उस जुए के विजेता के साथ एक सौदा करता है कि अगर उसके लड़के एक और गेम जीतते हैं, तो उन्हें कुछ नहीं चुकाना होगा। इस बार जब प्रतिद्वंद्वी धोखा देने की कोशिश करता है तो मूसा उसे ऐसा करने से रोकता है। नतीजा ये होता है कि लड़के 7,00,000 रुपये देने के बोझ से मुक्त हो जाते हैं। हालाँकि जय तान्या के लिए अपनी भावना व्यक्त करता है, लेकिन वह उससे कहती है कि वह उसके जैसे अच्छे लड़के के लिए उपयुक्त नहीं है और उसे अपने गाँव लौट जाना चाहिए।

जब सुल्तान से लड़ने की बात आती है, तो मूसा भाई लड़कों को अपने गांवों में वापस जाने का आदेश देते हुए कहत है कि वह खुद ऐसा करना चाहता है लेकिन ऐसा नहीं कर सकता। क्योंकि उसके अपराध बहुत अधिक हैं। हालाँकि लड़के सुल्तान को पीटने में मूसा भाई की मदद करने के लिए वापस आ जाते हैं और मूसा भाई उसे मार डालते हैं। अंत में, सभी लड़के अपने गाँव वापस चले जाते हैं। मूसा भाई उन्हें विदा करते हैं और उन्हें ईमानदार जीवन जीने की सलाह देते हैं। एक छोटी सी उप-कथा में रानी (प्रियंका चोपड़ा) शामिल है, जो पेशे से एक बार-डांसर है और मूसा भाई से प्यार करती है। वह उससे शादी करना चाहती है। मूसा भाई भी रानी से प्यार करता है लेकिन शादी करने से इंकार कर देता है। इसके बजाय वह सुझाव देता है कि उन्हें गैर-वैवाहिक संबंध बनाना चाहिए, जिससे रानी इनकार कर देती है। अंत में, मूसा भाई उससे शादी करने के लिए सहमत हो जाता है।

मुख्य कलाकार संपादित करें

संगीत संपादित करें

क्र॰शीर्षकगीतकारसंगीतकारगायकअवधि
1."प्यार आया"देव कोहलीआनन्द राज आनन्दअलीशा चिनॉय, आनन्द राज आनन्द4:37
2."होता है होता है"कुमारविशाल-शेखरकुमार शानू, सुनिधि चौहान5:16
3."कैसे कैसे"देव कोहलीआनन्द राज आनन्दअदनान सामी, सुनिधि चौहान6:22
4."आने वाला पल"देव कोहलीआनन्द राज आनन्दअभिजीत, उदित नारायण, आनन्द राज आनन्द, जुबिन गर्ग5:20
5."कल रात से"प्रवीण भारद्वाजआनन्द राज आनन्दकुमार शानू, श्रेया घोषाल4:44
6."महबूब मेरे"देव कोहलीआनन्द राज आनन्दअलीशा चिनॉय4:43
7."एम केम"देव कोहलीआनन्द राज आनन्दसंजय दत्त, आनन्द राज आनन्द, शान, अभिजीत5:26
8."आने वाला पल (दूसरा संकरण)"देव कोहलीआनन्द राज आनन्दअभिजीत, उदित नारायण, आनन्द राज आनन्द, जुबिन गर्ग, बाबुल सुप्रियो2:14

सन्दर्भ संपादित करें

  1. "'मूसाभाई' से 'कांचा चीना' तक, संजय दत्त की वो 8 फिल्में, पर्दे पर विलेन बनकर डराया और छा गए". News18 हिंदी. 25 फरवरी 2023. अभिगमन तिथि 23 जनवरी 2024.

बाहरी कड़ियाँ संपादित करें

प्लान (2004 फ़िल्म) इंटरनेट मूवी डेटाबेस पर