वायुमण्डल में प्रथ्वी के धरातल से ६४० किलोमीटर के ऊपर बाह्यमण्डल या आयतन मंडल का विस्तार हैं। इस परत मे नाइट्रोजन ओक्सिजन हाइड्रोजन हीलियम गैस की प्रधानता होती है। कृत्रिम उपग्रह इसी परत मे स्थापित किये जाते है।

विशेषताएंसंपादित करें

  • वायव्य अणुओं की अनुपस्थिति हैं |
वायुमंडल की परतें
क्षोभमण्डल | समतापमण्डल | मध्यमण्डल | तापमण्डल | आयनमण्डल | बाह्यमण्डल