बिरजा शंकर गुह (बंगला : বিরজাশঙ্কর গুহ) ; 15 अगस्त 1894 – 20 अक्टूबर 1961) भारत के भौतिक नृतत्वविज्ञानी थे। उन्होने बीसवीं शताब्दी के आरम्भिक दिनों में भारत के निवासियों को जाति (races) के अनुसार वर्गीकृत किया। वे भारतीय नृतत्वशास्त्रीय सर्वेक्षण (ASI) के प्रथम निदेशक थे। (1945–1954).

Biraja Sankar Guha
বিরজাশঙ্কর গুহ
जन्म 15 अगस्त 1894
Shillong, Assam, British India
मृत्यु 20 अक्टूबर 1961(1961-10-20) (उम्र 67)
Ghatshila, Bihar, India
राष्ट्रीयता Indian
जातीयता Bengali Hindu
व्यवसाय Anthropologist
धार्मिक मान्यता Hinduism


सन्दर्भसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें