बी॰ नागि रेड्डी (1912-2004) तेलुगू, तमिल एवं हिन्दी सिनेमा के निर्माता एवं निर्देशक थे। उनका पूरा नाम बोम्मिरेड्डी नागि रेड्डी[1] था। इन्होंने चेन्नई में 'विजय वाहिनी स्टूडियो' की स्थापना की थी, जो अपने समय में एशिया का सबसे बड़ा स्टूडियो माना जाता था। इनके बड़े भाई बोम्मिरेड्डी नरसिम्हा रेड्डी भी विख्यात निर्माता-निर्देशक थे। दोनों भाई का संक्षिप्त नाम समान रूप से 'बी एन रेड्डी' था और इन दोनों भाई को भारतीय सिनेमा का सर्वोच्च सम्मान दादा साहब फाल्के पुरस्कार प्राप्त हुआ।[2]

बोम्मिरेड्डी नागि रेड्डी
B Nagi Reddy 2018 stamp of India.jpg
बी॰ नागि रेड्डी, भारतीय डाकटिकट में
जन्म 2 दिसम्बर 1912
कोठापल्ली गाँव, पुलिवेन्दुला, कडप्पा जिला, मद्रास प्रेसिडेंसी ब्रिटिश भारत
मृत्यु 25 फ़रवरी 2004(2004-02-25) (उम्र 91)
चेन्नई, तमिलनाडु, भारत
व्यवसाय निर्माता-निर्देशक, संपादक, व्यवसायी एवं चिकित्सालयों के लिए उदार दानी
कार्यकाल 1950–89

आरम्भिक जीवनसंपादित करें

फ़िल्मी सफ़रसंपादित करें

सम्मानसंपादित करें

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. B. Nagi Reddi - Biography (personal detail)
  2. डॉ॰, सी॰ भास्कर राव (2014). दादा साहब फाल्के पुरस्कार विजेता (भाग-1) (प्रथम संस्करण). दरियागंज, नयी दिल्ली: शारदा प्रकाशन. पपृ॰ 63, 171, 175. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-93-82196-00-6.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें