भरतकुण्ड फैजाबाद जनपद में स्थित एक तीर्थस्थल है। इसे नन्दीग्राम के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ रहकर भरत ने श्रीराम की चरण पादुका को लेकर चौदह वर्ष तक अयोध्या का कार्यभार संभाला था।

भरतकुण्ड में तीर्थस्थल पर कई भव्य मन्दिर तथा देवस्थान है। यहाँ एक विशाल सरोवर है जिसमें कमल के आकर्षक एवं सुगन्धित पुष्प अपनी छटा बिखेरते हैं। यहाँ पर्यटकोँ का आगमन सम्पूर्ण वर्ष होता रहता है। किन्तु कार्तिक तथा चैत्र मास में यहाँ की भव्यता अनुपम होती है।

चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी एवं अमावस्या को यहाँ प्रसिद्ध "पिशाची का मेला" लगता है।