मुख्य मेनू खोलें

भारतीय राजस्व सेवा (अंग्रेज़ी: Indian Revenue Services), laGu rUp IRS, भारत सरकार की भारतीय सिविल सेवा के अन्तर्गत्त राजस्व सेवा है। यह सेवा वित्त मंत्रालय (भारत) के अधीन राजस्व विभाग के अन्तर्गत्त कार्यरत है। इसका मुख्य उद्देश्य विभिन्न प्रत्यक्ष कर एवं अप्रत्यक्ष करों का संग्रह क केन्द्र सरकार को उपलब्ध कराना है। 1924 में केन्‍द्रीय राजस्‍व बोर्ड अधिनि‍यम ने आयकर अधिनियम के प्रशासन के लिए प्रकार्यात्‍मक जिम्‍मेदारी के साथ केन्‍द्रीय राजस्‍व बोर्ड सांविधिक निकाय का गठन किया। प्रत्‍येक प्रांत के लिए आयकर आयुक्‍त नियुक्‍त किए गए तथा सहायक आयुक्‍त तथा आयकर अधिकारी उनके नियंत्रणाधीन रखे गये। सर्वोच्‍य पदों के लिए आई सी एस से अधिकारियों को लिया गया और निम्‍नतर सोपान पदों को प्रोन्‍नति के माध्‍यम से भरा गया। आयकर सेवा की स्‍थापना 1944 में की गई , जो बाद में भारतीय राजस्‍व सेवा (आयकर) के नाम से जानी गई।

भारतीय राजस्व सेवा
Indian Revenue Service Logo.png Indian Revenue Service (C&CE).jpg
सेवा के बारे में
लघु रूपआई.आर.एस (IRS)
स्थापना१९५३
राष्ट्रFlag of India.svg भारत
प्रशिक्षण भूमि1. राष्ट्रीय प्रत्यक्ष कर अकादमी (नागपुर)
2. राष्ट्रीय सीमाशुल्क, उत्पाद एवं नार्कोटिक्स अकादमी (फ़रीदाबाद)
नियन्त्रण प्राधिकरणराजस्व विभाग, वित्त मंत्रालय (भारत)
वैधानिक स्वरूपसरकारी
संघीय कानून प्रवर्तन
सामान्य प्रकृतिकराधान
राजस्व प्रशासन
संवर्ग आकार५५४१ (आयकर)
४५९२ (सीमा शुल्क और केन्द्रीय उत्पाद शुल्क)
संघभारतीय राजस्व सेवा (IT) संघ
IRS (C&CE) अधिकारी संघ
सेवा प्रमुख
सीबीडीटी अध्यक्षश्री. सुशील चन्द्र, IRS-IT
नागर सेवा अध्यक्ष
मंत्रिमंडल सचिवCurrent: P. K. Sinha, IAS

आयकर अधिकारियों (वर्ग-II) का पहला बैच आई ए और ए एस तथा संबंद्ध सेवाओं के लिए संधीय सेवा आयोग द्वारा संचालित 1943 परीक्षा के माध्‍यम से बर्ष 1944 में सीधे भर्ती किया गया।

बाहरी सूत्रसंपादित करें