मुस्कुराहट मानव चहरे पर प्रकट होने वाले एक भावनात्मक संकेत का नाम है जो अधिकाँश रूप से सकारात्मक होता है। इसे प्रकट करने के लिए आम तौर से गाल और होंठों को क्रियाँवित किया जाता है। कई बार हँसी और मुस्कुराहट का समानान्तर और समानार्थी रूप से प्रयोग किया जाता है। परन्तु ह्ँसी और मुस्कुराहट में कई अन्तर हैं। हँसी में किसी व्यक्ति का पूरा ध्यान केन्द्रित होता है, जबकि मुस्कुराना कई लोगों की आदत होती है और वे बिना किसी विशेष कारण के भी मुस्कुरा देते हैं। मुस्कुराकर लोग कई बार अपने अन्दर खुशी को दबाते हैं या दुःख को खुलकर लोगों के सामने नहीं रखते। कई बार औपचारिकता का नियम यही होता है कि किसी से मिलने और उनसे बात करने के लिए चेहरे पर मुस्कुराहट बनी है। मुस्कुराहट में एक नियंत्रित और सीमित समय की अभिव्यक्ति स्पष्ट होती है जबकि हँसी कई बार बेरोकटोक हो सकती है और इससे किसी दूसरे व्यक्ति को सामने वाले में स्वयं के प्रति निंदा या तिरस्कार की भावना की झलक दिख सकती है।

मिस अमेरिका का खिताब पाने वाली लॉरेन नेलसन अपने प्रशंसकों के आगे मुस्कुराते हुए।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें