मुख्य मेनू खोलें

३० सितम्बर २००५ को डेनमार्क के जाइलैण्ड्स-पोस्तेन नामक समाचारपत्र ने १२ सम्पादकीय कार्टून प्रकाशित किये जिनमें से अधिकांश में मुहम्मद साहब को चित्रित किया गया था। डेनमार्क और विश्व के अन्य भागों के मुसलमानों ने इसका विरोध किया।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें