मोती लाल साक़ी (१९३६-२१ मई १९९९) भारतीय कवि, लेखक, लोकगीतकार और शोधार्थी थे।[2] इनके द्वारा रचित एक कविता–संग्रह मानसर के लिये उन्हें सन् १९८१ में साहित्य अकादमी पुरस्कार (कश्मीरी) से सम्मानित किया गया।[3]

मोती लाल साक़ी
जन्म 1936
मृत्यु 21 मई 1999 Edit this on Wikidata
नागरिकता भारत, ब्रिटिश राज, भारतीय अधिराज्य Edit this on Wikidata
व्यवसाय भाषाविद, लेखक, कवि, लेखक Edit this on Wikidata
प्रसिद्धि कारण मानसर Edit this on Wikidata
पुरस्कार साहित्य अकादमी पुरस्कार[1] Edit this on Wikidata

सन्दर्भसंपादित करें

  1. http://sahitya-akademi.gov.in/awards/akademi%20samman_suchi.jsp#KASHMIRI; प्राप्त करने की तिथि: 28 फ़रवरी 2019.
  2. एस एस तोशखानी (२००९). Cultural Heritage of Kashmiri Pandits [कश्मीरी पण्डितों की सांस्कृतिक विरासत] (अंग्रेज़ी में). नेहा पब्लिकेशन. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788182743984.
  3. "अकादमी पुरस्कार". साहित्य अकादमी. मूल से 15 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि १ सितंबर २०१७.