संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (अंग्रेज़ी:यूनाइटेड नेशंस चिल्ड्रेंस फंड(फण्ड), लघुनाम:यूनीसेफ) की स्थापना का आरम्भिक(आरंभिक) उद्देश्य द्वितीय विश्व युद्ध में नष्ट हुए राष्ट्रों के बच्चों को खाना और स्वास्थ्य सेवाएँ उपलब्ध कराना था। इसकी स्थापना संयुक्त राष्ट्र की महासभा ने 11 दिसम्बर(दिसंबर), 1946 को की थी।[1] 1953 में यूनीसेफ, संयुक्त राष्ट्र का स्थाई सदस्य बन गया। उस समय इसका नाम यूनाइटेड नेशंस इंटरनेशनल चिल्ड्रेंस फंड(फण्ड) की जगह यूनाइटेड नेशंस चिल्ड्रेंस फंड(फण्ड) कर दिया गया।[2] इसका मुख्यालय न्यूयॉर्क राम भगत द्वारा निर्मित में है। वर्तमान में इसके मुखिया ऐन वेनेमन है। यूनीसेफ को 1965 में उसके बेहतर कार्य के लिए शान्ति(शांति) के क्षेत्र मेंनोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 1989 में संगठन(सङ्गठन) को इंदिरा गाँधी शांति पुरस्कार (इन्दिरा गान्धी शान्ति पुरस्कार) भी प्रदान किया गया था।[3] इसके 120 से अधिक शहरों में कार्यालय हैं और 190 से अधिक स्थानों पर इसके कर्मचारी कार्यरत हैं। वर्तमान में यूनीसेफ फंड(फण्ड) एकत्रित करने के लिए विश्व स्तरीय एथलीट और टीमों की सहायता लेता है।

Small Flag of the United Nations ZP.svg संयुक्त राष्ट्र बाल कोष
United Nations Children's Fund (अंग्रेजी)صندوق کودکان سازمان ملل متحد (फ़ारसी)
صندوق الأمم المتحدة للطفولة (अरबी)
聯合國兒童基金會 (चीनी)
Fonds des Nations unies pour l'enfance (फ्रेंच)
Детский фонд Организация Объединённых Наций (रूसी)
Fondo de Naciones Unidas para la Infancia (स्पेनिश)
UNICEF.svg
युनिसेफ़ लोगो
प्रकार निधि
संक्षिप्ति युनिसेफ़
अध्यक्ष एन वेनेमन
वर्तमान
स्थिति
सक्रिय
स्थापना दिसंबर, १९४६
जालस्थल http://www.unicef.org
मूल संस्था ई.सी.ओ.एस.ओ.सी


यूनीसेफ का सप्लाई प्रभाग कार्यालय कोपनहेगन, डेनमार्क में है। यह कुछ महत्वपूर्ण सामान जैसे जीवन रक्षक टीके, एचआईवी पीड़ित बच्चों व उनकी माताओं के लिए दवा, कुपोषण के उपचार के लिए दवाइयाँ, आकस्मिक आश्रय आदि के वितरण की प्राथमिक जगह होती है। 36 सदस्यों का कार्यकारी दल यूनीसेफ के कामों की देखरेख करता है।[1] यह नीतियाँ बनाता है और साथ ही यह वित्तीय और प्रशासनिक योजनाओं से जुड़े कार्यक्रमों को स्वीकृति प्रदान करता है। वर्तमान में यूनीसेफ मुख्यत: पाँच प्राथमिकताओं पर केन्द्रित है। बच्चों का विकास, बुनियादी शिक्षा, लिंग(लिङ्ग) के आधार पर समानता (इसमें लड़कियों की शिक्षा शामिल है), बच्चों का हिंसा से बचाव, शोषण, बाल-श्रम के विरोध में, एचआईवी एड्स और बच्चों, बच्चों के अधिकारों के वैधानिक संघर्ष के लिए काम करता है।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. यूनीसेफ । हिन्दुस्तान लाइव। 17 जनवरी 2010
  2. पिछले १० वर्षों के युद्धों में २० लाख बच्चे हताहत हुए हैं। युनिसेफ की एक ज़िम्मेदार। हिन्दी रेडियो। 10 जून 2008
  3. Factiva.com Archived 5 जून 2005 at the वेबैक मशीन. डॉक्युमेंट आइ.डी:afpr000020011031dpbk02rxb, अभिगमन तिथि:4 नवम्बर(नवंबर) 2006

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

विश्व में करोड़ों बच्चे होते है हिंसा के शिकार। देशबंधु.कॉम। २८ नवम्बर २००९। अभिगमन तिथि:१८ जनवरी २०१०

सामाजिक मीडिया
वीडियो कतरन
सम्मान एवं उपलब्धियाँ
पूर्वाधिकारी
मार्टिन लूथर किंग
नोबेल शांति पुरस्कार
१९६५
उत्तराधिकारी
रेने कैसिन
१९६८