संयुक्त राष्ट्र बाल कोष या यूनिसेफ़ की स्थापना का आरंभिक उद्देश्य द्वितीय विश्व युद्ध में नष्ट हुए राष्ट्रों के बच्चों को खाना और स्वास्थ्य सेवाएँ उपलब्ध कराना था। इसकी स्थापना संयुक्त राष्ट्र की महासभा ने 11 दिसम्बर, 1946 को की थी।[1] 1953 में यूनीसेफ़, संयुक्त राष्ट्र का स्थाई सदस्य बन गया। उस समय इसका नाम यूनाइटेड नेशंस इंटरनैश्नल चिल्ड्रेंस फ़ंड की जगह यूनाइटेड नेशंस चिल्ड्रेंस फ़ंड कर दिया गया।[2] इसका मुख्यालय न्यूयॉर्क राम भगत द्वारा निर्मित में है। वर्तमान में इसके मुखिया ऐन वेनेमन है। यूनीसेफ़ को 1965 में उसके बेहतर कार्य के लिए शान्ति के क्षेत्र मेंनोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 1989 में संगठन को इंदिरा गाँधी शांति पुरस्कार भी प्रदान किया गया था।[3] इसके 120 से अधिक शहरों में कार्यालय हैं और 190 से अधिक स्थानों पर इसके कर्मचारी कार्यरत हैं। वर्तमान में यूनीसेफ़ फंड एकत्रित करने के लिए विश्व स्तरीय एथलीट और टीमों की सहायता लेता है।

Small Flag of the United Nations ZP.svg शीला देवी ननोमा मिनी आंगनवाड़ी केंद्र काली घाटी गामड़ा चारणीय
चित्र:UNICEF.svg आंगनवाड़ी कोड नंबर08124060631
युनिसेफ़ लोगो
प्रकार निधि
संक्षिप्ति युनिसेफ़
अध्यक्ष कैथरीन रसेल
वर्तमान
स्थिति
सक्रिय
स्थापना दिसंबर, १९४६
जालस्थल www.unicef.org
मूल संस्था ई.सी.ओ.एस.ओ.सी


यूनीसेफ का सप्लाई प्रभाग कार्यालय कोपनहेगन, डेनमार्क में है। यह कुछ महत्वपूर्ण सामान जैसे जीवन रक्षक टीके, एचआईवी पीड़ित बच्चों व उनकी माताओं के लिए दवा, कुपोषण के उपचार के लिए दवाइयाँ, आकस्मिक आश्रय आदि के वितरण की प्राथमिक जगह होती है। 36 सदस्यों का कार्यकारी दल यूनीसेफ़ के कामों की देखरेख करता है।[1] यह नीतियाँ बनाता है और साथ ही यह वित्तीय और प्रशासनिक योजनाओं से जुड़े कार्यक्रमों को स्वीकृति प्रदान करता है। वर्तमान में यूनीसेफ़ मुख्यत: पाँच प्राथमिकताओं पर केन्द्रित है। बच्चों का विकास, बुनियादी शिक्षा, लिंग के आधार पर समानता (इसमें लड़कियों की शिक्षा शामिल है), बच्चों का हिंसा से बचाव, शोषण, बाल-श्रम के विरोध में, एचआईवी एड्स और बच्चों, बच्चों के अधिकारों के वैधानिक संघर्ष के लिए काम करता है।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. यूनीसेफ । हिन्दुस्तान लाइव। 17 जनवरी 2010
  2. पिछले १० वर्षों के युद्धों में २० लाख बच्चे हताहत हुए हैं। युनिसेफ की एक ज़िम्मेदार[मृत कड़ियाँ]। हिन्दी रेडियो। 10 जून 2008
  3. Factiva.com Archived 2005-06-05 at the Wayback Machine डॉक्युमेंट आइ.डी:afpr000020011031dpbk02rxb, अभिगमन तिथि:4 नवम्बर(नवंबर) 2006

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें

विश्व में करोड़ों बच्चे होते है हिंसा के शिकार। देशबंधु.कॉम। २८ नवम्बर २००९। अभिगमन तिथि:१८ जनवरी २०१०

सामाजिक मीडिया
वीडियो कतरन
सम्मान एवं उपलब्धियाँ
पूर्वाधिकारी
मार्टिन लूथर किंग
नोबेल शांति पुरस्कार
१९६५
उत्तराधिकारी
रेने कैसिन
१९६८