रंगारेख विधि (Colour-Patch map या Chrochromatic Map) मानचित्र बनाने की एक गुणात्मक विधि है जो सरल और लोकप्रिय भी है। रंगों के प्रयोग से ये मानचित्र आकर्षक होते हैं। प्रायः प्राकृतिक प्रदेशों, राजनैतिक, प्रशासकीय इकाइयां , भूमि उपयोगों के प्रकारों, प्राकृतिक वनस्पति एवं मृदा प्रकारों को दिखाने के लिए इस विधि का उपयोग किया जाता है। ये एकल प्रयोग मानचित्र होते हैं।

सन्दर्भसंपादित करें