रघुनाथ शिरोमणि नव्य नयाय के न्याय शास्त्री थे।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें