मुख्य मेनू खोलें

रामविलास पासवान भारतीय दलित राजनीति के प्रमुख नेताओं में से एक हैं।[1] वे लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष एवं राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार में केन्द्रीय मंत्री भी हैं।[2] वे सोलहवीं लोकसभा में बिहार के हाजीपुर लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं।

रामविलास पासवान
Ram Vilas Paswan.jpg

उपभोक्ता मामलात मंत्री, भारत सरकार
पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
26 मई 2015, पुनः 30 मई 2019
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री
कार्यकाल
2004 - 2009
प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह

केन्द्रीय खनिज मंत्री
कार्यकाल
2001 - 2002
प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी

केन्द्रीय सूचना एवं प्रचारण मंत्री
कार्यकाल
1999 - 2000
प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी

कार्यकाल
1996 - 1998


जन्म 5 जुलाई 1946 (1946-07-05) (आयु 73)
खगड़िया, बिहार
राजनीतिक दल लोक जनशक्ति पार्टी
जीवन संगी रीना पासवान
बच्चे चिराग पासवान (पुत्र) व 3 पुत्रियां
निवास खगड़िया, बिहार
धर्म हिन्दू धर्म

अनुक्रम

व्यक्तिगत जीवनसंपादित करें

पासवान बिहार के खगरिया जिले के शाहरबन्नी गांव से हैं। वह एक अनुसूचित जाति परिवार के लिए पैदा हुआ था। उन्होंने 1 9 60 के दशक में राजकुमारी देवी से शादी की। 2014 में उन्होंने खुलासा किया कि लोकसभा नामांकन पत्रों को चुनौती देने के बाद उन्होंने 1 9 81 में उन्हें तलाक दे दिया था। उनकी पहली पत्नी उषा और आशा से दो बेटियां हैं।[3] 1 9 83 में, उन्होंने अमृतसर से एक एयरहोस्टेस और पंजाबी हिंदू रीना शर्मा से विवाह किया। उनके पास एक बेटा और बेटी है। उनके बेटे चिराग पासवान एक अभिनेता से बने राजनेता हैं

राजनीतिक जीवनसंपादित करें

श्री पासवान जी पिछले 32 वर्षों में 11 चुनाव लड़ चुके हैं और उनमें से नौ जीत चुके हैं. इस बार उन्होंने चुनाव नहीं लड़ा लेकिन इस बार सत्रहवीं लोकसभा में उन्होंने मोदी सरकार में एक बार फिर से उपभोक्ता मामलात मंत्री पद की शपथ ली। श्री पासवान जी के पास छः प्रधानमंत्रियों के साथ काम करने का अनूठा रिकॉर्ड भी है।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "पासवान ने इस्तीफ़ा दिया".
  2. "BBC EXCLUSIVE". पाठ " मोदी सरकार ऊंची जातियों के ख़िलाफ़, अब तो ये प्रचार हो रहा है: रामविलास पासवान" की उपेक्षा की गयी (मदद)
  3. "Will fight against dad in Lok Sabha polls: Ram Vilas daughter".

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें