रोहित सरदाना

भारतीय पत्रकार और मीडिया व्यक्तित्व

रोहित सरदाना (ग्रेगोरी कैलेण्डर: 22 सितम्बर 1979 - 30 अप्रैल 2021) , (भारतीय राष्ट्रीय पंचांग: 31 भाद्रपद 1901 - 10 वैशाख 1943) एक भारतीय समाचार एंकर थे। उन्होंने ताल ठोक के एक कार्यक्रम की मेजबानी की थी, जो ज़ी न्यूज़ पर भारत में समकालीन मुद्दों पर चर्चा करते थे। 2017 , (भारतीय राष्ट्रीय पंचांग: 1938-1939) में, उन्होंने आजतक से जुड़ने के लिए ज़ी न्यूज़ छोड़ दिया, जहाँ उन्होंने डिबेट शो दंगल की मेजबानी की।[1][2] वह 2018 (भारतीय राष्ट्रीय पंचांग: 1939-1940) के गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार के प्राप्तकर्ता थे।[3]2021 मेंें हार्ट अटैक केे कारण रोहित सरदानाा की की मृत्यु हो गई हो[4]

रोहित सरदाना
जन्म २२ सितम्बर १९७९
(भारतीय राष्ट्रीय पंचांग: 31 भाद्रपद 1901)
कुरुक्षेत्र, हरियाणा, भारत
मृत्यु 30 अप्रैल 2021(2021-04-30) (उम्र 41)
नोएडा, उत्तर प्रदेश, भारत
मृत्यु का कारण दिल का दौरा
राष्ट्रीयता भारत भारतीय
व्यवसाय न्यूज़ एंकर, पत्रकार, एडिटर
कार्यकाल 2000–2021
नियोक्ता ज़ी न्यूज़
आज तक
प्रसिद्धि कारण टीवी कार्यक्रमों के एंकरिंग के लिये आज तक चैनल पर 'दंगल' कार्यक्रम तथा ज़ी न्यूज़ चैनल पर 'ताल ठोक के'
जीवनसाथी प्रमिला दीक्षित
बच्चे 2
पुरस्कार गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार, 2018

प्रारम्भिक जीवन तथा शिक्षासंपादित करें

सरदाना के पास मनोविज्ञान में कला स्नातक की डिग्री थी। 2000 से 2002 तक, सरदाना ने गुरु जम्भेश्वर विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर डिग्री हासिल की और अपना शैक्षणिक कार्य पूरा किया।[2]

करियरसंपादित करें

उन्होंने आज तक पर दंगल नामक एक शो की मेजबानी की, जिसमें वाद-विवाद पैनल थे।[5] उन पर आरोप लगते थे, इस शो की तुलना रेडियो रवाण्डा से की गई है और उनकी आलोचना मुस्लिमों के प्रदर्शन के लिए की गई थी,[6][7][8][9][10] सरदाना को भारत में सरकार समर्थक पत्रकार (सिर्फ आरोप था) का एक हिस्सा माना जाता था और नरेन्द्र मोदी और सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के प्रति अधीनता के लिए उनकी आलोचना भी की जाती थी।[11][12][13][14] 2018 में, उन्हें भारत सरकार द्वारा गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।[3]

नवंबर 2017 में, सरदाना ने एक विवाद खड़ा कर दिया जब उन्होंने पूछा कि 'सेक्सी' का शीर्षक केवल एक हिंदू देवी के बाद रखा गया था और इस्लाम और ईसाई धर्म में महिलाओं को नहीं, [15][16] जिसमें इस्लामी पैगंबर मुहम्मद की पत्नी आयशा, बेटी फातिमा और मैरी, जीसस क्राइस्ट की माँ।[17] शिया मुस्लिम समूह ने आजतक के बेंगलुरु कार्यालय पर हमला किया।[18]

मृत्युसंपादित करें

कोविड-19 के सकारात्मक परीक्षण के बाद दिल का दौरा पड़ने से उनकी मृत्यु हो गई।[19] राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, पीएम नरेंद्र मोदी[20], दिल्ली के उपमुख्यमन्त्री मनीष सिसोदिया, राजस्थान के मुख्यमन्त्री अशोक गहलोत, क्रिकेटर सुरेश रैना, युवा मामले और खेल मन्त्री किरन रिजिजू, केन्द्रीय गृहमन्त्री अमित शाह, रक्षामन्त्री राजनाथ सिंह सहित कई लोगों ने उनके असामयिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया।

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "Rohit Sardana". Zee News. अभिगमन तिथि 13 September 2016.
  2. Deepak, Vishwa (18 March 2016). "A Former Zee News Producer Reveals Why He Left Over The Network's Coverage Of JNU". Caravan Magazine. अभिगमन तिथि 5 January 2021. Cite magazine requires |magazine= (मदद)
  3. तिवारी, अटल (22 April 2018). "रोहित सरदाना को गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार देने वालों की बुद्धि पर तरस खाया जा सकता है". The Wire - Hindi (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 6 June 2019.
  4. sachinyadav (2022-04-20). "रोहित सरदाना | पत्नी | सैलरी | बच्चे | उम्र | जीवनी 2022". filemywap.in (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2022-05-09.
  5. Team, N. L. "Looking back, 2019: The highs and lows of Indian journalism". Newslaundry (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 8 June 2020.
  6. Sik, Zainab; er (13 April 2020). "Indian media is waging a holy war against Muslims. It acts like hyenas". ThePrint (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 8 June 2020.
  7. "The India-Pakistan Cricket Rivalry Is Dead. The Hype Needs to Die Too". The Wire. अभिगमन तिथि 8 June 2020.
  8. Team, N. L. "Rohit Sardana aka walking-talking Radio Rwanda does it again". Newslaundry (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 8 June 2020.
  9. "One tale, two narratives: Aaj Tak's reportage on Kasganj violence". Alt News.
  10. "Aaj Tak Blames Congress Bihar Polls Candidate For Jinnah Portrait Hanging at AMU Since 1938". The Wire.
  11. "India's pro-government media aka GODI media". January 9, 2021.
  12. "'Big success for Modi Sarkar': How news channels aired unverified news on India's 'pinpoint strikes' in PoK".
  13. "Indian journalists quote Chinese casualties based on unverified source". Alt News.
  14. "India Today Group, Times Now air old images of PLA cemetery as graves of Chinese killed in Galwan". Alt News.
  15. "Hundreds hit streets to protest controversial tweet".
  16. "Protests in Hyd's Old City against journalist Rohit Sardana for 'blasphemous' tweet".
  17. "India Today's B'luru office attacked by Shia Muslim group over Rohit Sardana's remark".
  18. "Protests, Death Threats Over Aaj Tak Journo Rohit Sardana's Tweet".
  19. Bureau, ABP News (30 April 2021). "Well-Known TV News Anchor Rohit Sardana Passed Away After kidney failure; Had Contracted Coronavirus". news.abplive.com (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 30 April 2021.
  20. "PM condoles death of Rohit Sardana". pib.gov.in.

बाहरी कड़ियाँसंपादित करें