लावा नहर (lava channel) लावा की एक चलती धारा होती है जो ठोस लावा के दो किनारों के बीच बहती है। आरम्भ में यह किनारे नहीं होते लेकिन किसी ढलान पर बहते-बहते लावा ठंडा होकर किनारे बना लेता है और फिर लावा उनके बीच के बने हुए नाले में बहने लगता है। कभी-कभी यदि बहते लावा की मात्रा अधिक हो तो वह किनारों के ऊपर निकल आता है और, जब वह ठंडा होकर ठोस बन जाता है, तो किनारों को अधिक ऊँचा कर देता है। लावा नहरों में बहने वाला लावा मुख्य रूप से बेसाल्टीय होता है।[1][2]

हवाई के बड़े द्वीप पर पाहोएहोए (Pāhoehoe) लावा धारा। इसमें स्थान-स्थान पर मुख्य लावा नहर के ऊपर से लावा निकल आया है। बहते लावा की सबसे ऊपरी परत ठंडी होकर भूरे रंग की दिख रही है लेकिन उसके नीचे पिघला लाला लावा है जो किनारों के ऊपर से हुए उमड़ाव में नज़र आ रहा है।

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Ailsa Allaby and Michael Allaby. "lava channel Archived 3 मार्च 2016 at the वेबैक मशीन.." A Dictionary of Earth Sciences. 1999. Retrieved June 27, 2011 from Encyclopedia.com
  2. Harris, A., M, Favalli., F, Mazzarini, C, Hamilton., 2008. Construction dynamics of a lava channel. Bulletin of Volcanology. 71. (4):459-474.