लैमरेल सिदबी (प्राचीन मैतै: लैमलेल सितपी) प्राचीन कंगलैपाक (प्राचीन मणिपुर) की मैतै लोग की मैतै पौराणिक कथाओं और प्राचीन मैतै धर्म (सनामही धर्म) में एक देवी हैं। वह मैतै पंथ में सर्वोच्च महिला देवत्व है। वह पृथ्वी, प्रकृति और गृहस्थी की देवी हैं। वह ब्रह्मांड में सभी की मां है।[2][3][4][5]

लैमरेल सिदबी
(प्राचीन मैतै: लैमलेल सितपी)
पृथ्वी, प्रकृति और गृहस्थी की देवी
Member of देवी
LEIMALEL.png
"लैमलेल", प्राचीन मैतै (पुरानी मणिपुरी) में लैमरेल का नाम, पुरातन मैतै मयेक अबुगिडा में लिखा गया है
अन्य नाम
संबंध मैतै लोग की मैतै पौराणिक कथाओं और प्राचीन मैतै धर्म (सनामही धर्म)
निवासस्थान सनामही काचीन[1]
वस्तुएँ पानी का बर्तन (Isaiphu or Esaiphu)[2]
प्रतीक पानी का बर्तन (Isaiphu or Esaiphu)[2]
जीवनसाथी सलाइलेन (सोरारेन)
संतान सनामही (foster) और पाखंब (biological)
शास्त्र पुया
यूनानी रूप Gaia
रोमन रूप Terra
क्षेत्र प्राचीन कंगलैपाक (प्राचीन मणिपुर)
समुदाय मैतै लोग
त्यौहार लाइ हराओबा

इसे भी देखीएसंपादित करें

संदर्भसंपादित करें

  1. Gitam, Kanishq (2022-01-12). Asatoma Sadgamaya A path for one (अंग्रेज़ी में). Blue Rose Publishers. पृ॰ 207.
  2. Devi, Lairenlakpam Bino (2002). The Lois of Manipur: Andro, Khurkhul, Phayeng and Sekmai (अंग्रेज़ी में). Mittal Publications. पृ॰ 48. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-7099-849-5.
  3. Meitei, Sanjenbam Yaiphaba; Chaudhuri, Sarit K.; Arunkumar, M. C. (2020-11-25). The Cultural Heritage of Manipur (अंग्रेज़ी में). Routledge. पृ॰ 221. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-000-29637-2.
  4. Karna, Mahendra Narain (1998). Social Movements in North-East India (अंग्रेज़ी में). Indus Publishing. पृ॰ 200. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-7387-083-5.
  5. Devi, Dr Yumlembam Gopi. Glimpses of Manipuri Culture (अंग्रेज़ी में). Lulu.com. पृ॰ 23. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-359-72919-7.