लौरालेस (Laurales) सपुष्पक पौधों का एक जीववैज्ञानिक गण है जो मैग्नोलिड नामक क्लेड का सदस्य है। इस गण में २५००-२८०० जातियाँ आती हैं जो ८५-९० वंशों में संगठित हैं। यह अधिकतर पृथ्वी के ऊष्णकटिबन्ध और उपोष्णकटिबन्ध क्षेत्रों में (यानि गरम क्षेत्रों में) उगती हैं हालांकि कुछ गिनी-चुनी जातियाँ समशीतोष्ण क्षेत्रों में भी पाई जाती हैं। तज (बे लॉरल), दालचीनी, रूचिरा (आवोकाडो) और सासाफ़्रास इस गण के सबसे जाने-पहचाने सदस्य हैं।[1]

लौरालेस
Laurus nobilis MHNT Fleurs.jpg
लौरस नोबिलिस (Laurus nobilis) जाति का फूल व पत्ते
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: पादप
अश्रेणीत: पुष्पी पादप (Angiosperms)
अश्रेणीत: मैग्नोलिड (Magnoliids)
गण: लौरालेस (Laurales)
कुल

Atherospermataceae
Calycanthaceae
Gomortegaceae
Hernandiaceae
Lauraceae
मोनिमिआसिए (Monimiaceae)
Siparunaceae

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. Susanne S. Renner (1999). "Circumscription and phylogeny of the Laurales: evidence from molecular and morphological data". American Journal of Botany. 86 (9): 1301–1315. JSTOR 2656778. PMID 10487818. डीओआइ:10.2307/2656778. Full text (pdf) Archived 16 अप्रैल 2007 at the वेबैक मशीन..