वसंतराव फुलसिंग नाईक (१ जुलाई १९१३ - १८ अगस्त १९७९) एक भारतीय राजनीतिज्ञ थे जो १९६३ से १९७५ तक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बने रहे। मुख्यमंत्री मारोतराव कन्नमवार की मृत्यु के बाद पी. के. सावंतने दस दिनों तक यह पद संभाला। नाईक बाद में मुख्यमंत्री चुने गए और ५ दिसंबर १९६३ से २० फरवरी १९७५ तक का उनका कार्यकाल जुलाई 2017 के अनुसार का सबसे लम्बा रहा।[1]

सन्दर्भसंपादित करें

  1. "महाराष्ट्र में 50 साल में 15 नेता बने मुख्यमंत्री". one india. ११ नवंबर २०१०. अभिगमन तिथि १८ जुलाई २०१७.