मुख्य मेनू खोलें

वाद्य संगीत ऐसी संगीत रचना होती है ने किसी प्रदर्शन के लिये कर सकता है। वाद्य संगीत की परम्परा पश्चिमी संस्कृति और भारत में बहुत प्राचीन है। भारत में बहुत पहले समय से वीणा के उपयोग से वाद्य संगीत की रचना की जाती थी।[1]

इन्हें भी देखेंसंपादित करें

सन्दर्भसंपादित करें

  1. शर्मा, रामविलास (2010). संगीत का इतिहास और भारतीय नवजागरण की समस्याएँ. नई दिल्ली: वाणी प्रकाशन. पृ॰ 184. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9350002299. |access-date= दिए जाने पर |url= भी दिया होना चाहिए (मदद)