"अचला सचदेव" के अवतरणों में अंतर

529 बैट्स् जोड़े गए ,  9 वर्ष पहले
जीवन के अंतिम दौर में वह बेहद अकेली हो गई थीं।
अंतिम दिनों में वे पक्षाघात से जूझ रही थीं और पुणे के एक अस्पताल में भर्ती थीं।
 
जिस वक्तक अचला ने आखिरी सांस ली, उस वक्तत उनके बच्चेि भी पास नहीं थे। उनका बेटा अपने व्यवसाय के चलते अमेरिका में था और बेटी मुंबई में। अपनी बीमारी से अचला अकेली ही जूझ रही थीं और आखिरकार वह यह जंग हार गईं।
 
==प्रमुख फिल्में==