"वैश्विक मोबाइल संचार प्रणाली" के अवतरणों में अंतर

छो
→‎ध्वनि कोडेक: सफाई, replaced: date=December → date=दिसम्बर
छो (बॉट: date प्रारूप बदला।)
छो (→‎ध्वनि कोडेक: सफाई, replaced: date=December → date=दिसम्बर)
GSM ने 5.6 तथा 13 kbit/s के बीच ध्वनि को संकुचित करने के लिए कई प्रकार के ध्वनि [[कोडेक]] का इस्तेमाल किया है। मूलतः दो कोडेक, यथा [[अर्द्ध दर]] (5.6 kbit/s) और [[पूर्ण दर]] (13 kbit/s) का प्रयोग हुआ है, जिनका नामकरण उन्हें आबंटित डाटा चैनल प्रकार के आधार पर हुआ है। इनमें एक ऐसी प्रणाली का प्रयोग हुआ है, जो [[रेखीय पूर्वकथनीय कोडिंग]] (LPC) पर आधारित होती है। बिटरेट के प्रति प्रभावी होने के अलावा इन कोडेकों ने ध्वनि के अधिक महत्वपूर्ण हिस्सों को पहचानना काफ़ी आसान कर दिया है, जिससे वायु अंतराफलक परत के लिए इन संकेतों को रक्षित करना और प्राथमिकता देना आसान हो गया है।
 
GSM को 1997<ref>{{cite web |url=http://www.3gpp.org/ftp/Specs/archive/06_series/06.51/0651-401.zip |publisher=ETSI |title=GSM 06.51 version 4.0.1 |date=Decemberदिसम्बर 1997 |format=ZIP |accessdate=5 सितंबर 2007}}</ref> में [[Enhanced Full Rate|पूर्ण दर चैनल]] का उपयोग करने वाले [[वर्धित पूर्ण दर]] (EFR) कोडेक, एक 12.2 kbit/s कोडेक, में विकसित किया गया। अंत में, [[UMTS]] के विकास के साथ EFR एक अस्थिर-दर कोडेक के रूप में पुनर्संशोधित किया गया, जिसे [[अनुकूली बहु-दर|AMR-Narrowband]] कहते हैं और जो पूर्ण दर चैनलों पर प्रयोग करने पर उच्च गुणवत्ता वाला व हस्तक्षेप के प्रति मजबूत है और साथ ही, जब यह अच्छे रेडियो दशाओँ में अर्द्ध-दर चैनल पर प्रयुक्त होता है, तो यह कम मजबूत मगर अपेक्षाकृत उच्च गुणवत्ता वाला होता है।
 
=== नेटवर्क संरचना ===
24,239

सम्पादन