"विवाह-विच्छेद" के अवतरणों में अंतर

1,415 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
छो (106.210.160.43 (Talk) के संपादनों को हटाकर संजीव कुमार के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न बदला गया
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
'''विवाह-विच्छेद''', जिसे '''तलाक''' भीनही कहतेकह हैं,सकते वैवाहिकहै। शादी के उपरांत जीवन अथवासाथी वैवाहिकको बन्धनछोड़ने के अन्तलिए कोसामान्यतः कहा2 शब्दों का प्रयोग किया जाता है।है;
1-Divorce (अंग्रेजी)
2-तलाक (उर्दू)
वास्तव में हिन्दू धर्म मे विवाह विच्छेद जैसा शब्द कही नही मिलता है। हिन्दू धर्म के अनुसार विवाह किया जाता है तो पति-पत्नी के बीच किसी भी तरह अलग होने का कोई प्रावधान नहीं है अगर तुमने मैरिज़ की होती तो तुम डाइवोर्स ले सकते थे अगर तुमने निकाह किया होता तो तुम तलाक ले सकते थे लेकिन तुमने विवाह किया है तो, इसका मतलब ये हुआ कि हिंदू धर्म और हिंदी में कहीं भी पति-पत्नी के एक हो जाने के बाद अलग होने का कोई प्रावधान है ही नहीं।
"हिन्दी एक भाषा ही नहीं - संस्कृति है"
"हिन्दू भी धर्म नही - सभ्यता है"
1

सम्पादन