"सार्वजनिक प्रस्ताव" के अवतरणों में अंतर

छो
छो (Kritesh.abhishek02 (Talk) के संपादनों को हटाकर 101.62.180.178 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
 
== प्रक्रिया ==
आईपीओ में आमतौर पर एक अथवा एक से अधिक [[निवेश बैंक]] ([[:en:investment bank|investment bank]]) पैर [[हामीदार]] ([[:en:underwriter|underwriter]]) होते हैं शरेसशेयर जारी करने वाली कंपनी "जारीकर्ता", को किसी प्रमुख हामीदार से अपने शरेसशेयर जनता को बेचने के लिए अनुबन्ध करती है वह हामीदार इन शेयरों को बेचने का प्रस्ताव ले कर निवेशकों के पास जाता है
 
आईपीओ का यह सौदा (आवंटन और मूल्य निर्धारण) कई रूपों में हो सकता है आम उदाहरणों में शामिल हैं:
आमतौर पर, पेशकश में नई पूँजी एकर्त्रित करने के लिए नए शेयरों का निर्गम एवं मौजूदा शेयरों की अनुषंगी बिक्री शामिल होती है। लेकिन, अधिकतर मौजूदा शेयरो की बिक्री पर कुछ नियामक प्रतिबंध एवं प्रमुख हामिदारों द्वारा लगाये गए प्रतिबन्ध लागु होते हैं
 
सार्वजनिक पेशकशें मुख्या तौर पर संस्थागत निवेशकों द्वारा बसचीबेची जाती हैं, लकिन कुछ शेयरोंशेयर हामिदारों को भी बिक्री के लिए आवंटित किए जाते हैं। एक सार्वजनिक पेशकश के शेयरों बेचने वाले दलाल को आढ़त के बजाए बिक्री प्रत्यय से किया जाता है। ग्राहक को सार्वजनिक पेशकश के शेयरों को खरीदने पर कोई आढ़त नही देनी होती, बिक्री प्रत्यय खरीद मूल्य में ही शामिल होता है।
 
जारीकर्ता हामिदारों को कुछ परिस्थितिओं में उनकी पेशकश पर १५% तक बढाने का विकल्प देता है, इसे [[greenshoe|ग्रीन शू]] ([[:en:greenshoe|greenshoe]]) या अधिक आवंटन विकल्प कहते हैं।
 
== व्यापार चक्र ==
16

सम्पादन